ताज़ा खबर
 

चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में 3 विकेट लेते ही सबसे तेज 250 विकेट लेने वाले गेंदबाज बनेंगे आर. अश्विन

फिलहाल सबसे तेज 250 विकेट लेने का रेकॉर्ड पूर्व अॉस्ट्रेलियाई दिग्गज डेनिस लिली के नाम है, जिन्होंने 48 मैचों में 23.37 की औसत से 251 विकेट चटकाए थे।

विकेट लेने के बाद खुशी मनाते रविचंद्रन अश्विन। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का 5वां और आखिरी टेस्ट मैच कल (16 दिसंबर) को चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में खेला जाएगा। लेकिन इस मैच में सबकी नजरें होंगी लोकल बॉय रविचंद्रन अश्विन पर। आपको बता दें कि ‘लिटिल’ अश्विन 1993 में जब पहली बार अपने पिता के साथ चेपॉक स्टेडियम में मैच देखने आए थे तो भारत का मुकाबला इंग्लैंड से ही था। अब 23 साल बाद अश्विन दुनिया के नंबर वन स्पिनर हैं और सामने वही टीम है। सीरीज की बात करें तो अश्विन अब तक 27 विकेट ले चुके हैं। वहीं साल 2016 में अश्विन की घूमती गेंदों ने विपक्षी बल्लेबाजों को खूब परेशान किया है। इंग्लैंड हो या किवी बल्लेबाज सभी अश्विन के आगे बेबस नजर आए। इस साल अश्विन अब तक 7 टेस्ट मैचों में 20.74 की औसत से 54 विकेट ले चुके हैं। अहम बात यह है कि इस दौरान उन्होंने 6 बार पांच विकेट और 3 बार एक मैच में 10 विकेट चटकाए और उनका स्ट्राइक रेट रहा 42.7 का।

पांचवे टेस्ट मैच में अगर अश्विन 3 विकेट झटक लेते हैं तो वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 250 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन जाएंगे। अश्विन ने 24.22 की औसत से 43 टेस्ट मैचों में 247 विकेट चटकाए हैं। हालांकि अश्विन के शानदार फॉर्म को देखते हुए उनकी पकड़ से यह रिकॉर्ड ज्यादा दूर नजर नहीं आता।

फिलहाल सबसे तेज 250 विकेट लेने का रेकॉर्ड पूर्व अॉस्ट्रेलियाई दिग्गज डेनिस लिली के नाम है, जिन्होंने 48 मैचों में 23.37 की औसत से 251 विकेट चटकाए थे। इसके अलावा साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन भी को भी 250 विकेट तक पहुंचने के लिए 49 टेस्ट लगे थे। उन्होंने 22.82 की औसत से 255 विकेट लिए थे। साउथ अफ्रीका के एलन डॉनल्ड ने 50 टेस्ट मैचों में 251 विकेट अपने नाम किए थे। इस दौरान उनका औसत 22.11 रहा। उन्होंने 16 बार 5 विकेट भी लिए थे।

इस कड़ी में अगला नाम आता है पाकिस्तान के स्विंग सुलतान वकास यूनुस का। वकार ने 51 टेस्ट मैचों में 254 विकेट चटकाए थे और उनका औसत 21.72 रहा जो सबसे जल्दी 250 विकेट लेने वाले गेंदबाजों में सबसे बेहतर है। उन्होंने 20 बार 5 विकेट भी लिए थे। वहीं इस लिस्ट में एकलौते स्पिनर श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन भी सबसे तेज 250 विकेट नहीं ले पाए थे। उन्हें भी 253 विकेट लेने के लिए 51 टेस्ट मैचों का इंतजार करना पड़ा था।

 

  • IndvsEng: सीरीज़ जीतने पर बोले कप्तान विराट कोहली- “कोई भी सीरीज़ आसान नहीं होता, देखें विडियो :

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App