ताज़ा खबर
 

बचपन में जिस टीम के खिलाफ चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में देखा था पहला मैच, कल उसी टीम की कमर तोड़ेंगे आर. अश्विन

धुरंधर गेंदबाज ने चेन्नई में अपना आखिरी टेस्ट मैच अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था, जिसमें उन्होंने 12 विकेट चटकाए थे। मैच भारत ने 8 विकेट से जीता था।

विकेट लेने के बाद खुशी मनाते भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन। (Photo: PTI)

करीब 23 साल पहले चेन्नई का एक बच्चा अपने पिता के साथ चेपॉक स्टेडियम में मैच देखने गया था। यह मैच भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया था। उस वक्त शायद उस बच्चे को भी नहीं पता होगा कि वक्त का पहिया एेसा घूमेगा कि 23 साल बाद वह दुनिया का नंबर एक स्पिनर बनकर उसी टीम के खिलाफ उतरेगा, जिसका मैच उसने अपने बचपन में पहली बार देखा था। अगर आप अब भी अंदाजा नहीं लगा पा रहे हैं कि हमने किस खिलाड़ी का जिक्र किया है तो टेंशन मत लीजिए। वह खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि चेन्नई बॉय रविचंद्रन अश्विन हैं, जो अपने करियर की शानदार फॉर्म से गुजर रहे हैं।

कल जब अश्विन पांचवे टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ उतरेंगे तो उन पर जीत दिलाकर इंग्लैंड का सूपड़ा साफ करने का चैलेंज तो होगा ही साथ ही अपने लिए भी वह इस टेस्ट मैच को खास बनाना चाहेंगे। सीरीज में सर्वाधिक विकेट ले चुके अश्विन का चेपॉक स्टेडियम से खास नाता रहा है।

बुधवार सुबह बीसीसीआई.टीवी को दिए इंटरव्यू में वह थोड़ा भावुक हो गए। बता दें कि चेन्नई में वारदा तूफान का कहर जारी है, जिससे यहां के लोगों का जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इसी को लेकर अश्विन ने कहा कि चेन्नई एक एेसा शहर है जो जरूर वापसी करेगा। मुझे पता है कि फैन्स आएंगे। यह सोचकर ही मजा आने लगता है कि जैसे ही मैं गेंदबाजी करने आऊंगा तो वह मेरा नाम चिल्लाएंगे। पिच देखने के बाद अश्विन ने कहा कि मैं सिर्फ इस स्थिति का आनंद लेना चाहता हूं।

दिलचस्प बात है कि अश्विन बचपन से ही पिच क्यूरेटर पाचा को जानते हैं और वह यहां काफी खेल चुके हैं। इसलिए यहां के मिजाज से वाकिफ हैं। अश्विन कहते हैं कि पिच में नमी दिख रही है और उम्मीद है कि यहां बॉल बाउंस करेगी।

आपको बता दें कि अश्विन ने चेपॉक में अपना आखिरी मैच साल 2013 में अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था और उस वक्त स्थिति काफी अलग थी। उन्हें साथी गेंदबाज हरभजन सिंह से काफी कॉम्पिटिशन मिल रहा था और चीजें भी उनके हक में नहीं जा रही थीं। लेकिन चेन्नई बॉय ने नेट में अपने बॉलिंग कोच के साथ कड़ी मेहनत की और मैच में कुल 12 विकेट चटकाए। भारत ने यह मैच 8 विकेट से जीता था।

टेस्‍ट मैचों की मेजबानी करने वाला दुनिया का 120वां स्‍टेडियम बना राजकोट का मैदान, देखें विडियो

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App