ताज़ा खबर
 

वीडियो: जब कुंबले के सामने ताश के पत्तों की तरह ढह गई थी पूरी पाकिस्तानी टीम, लिए थे 10 विकेट

फरवरी 1999 की वो तारीख हर क्रिकेट प्रेमी को याद होगी, जब अनिल कुंबले के सामने पाकिस्तानी टीम ताश के पत्तों की तरह ढह गई थी। कुंबले ने पाकिस्तानी टीम के 10 विकेट चुटकियों में चटका दिए थे।

Author नई दिल्ली | October 16, 2017 7:33 PM
पूर्व टेस्ट कप्तान अनिल कुंबले। (फाइल फोटो)

साल 1999 में दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान में भारत और पाकिस्तान के बीच हुआ वो ऐतिहासिक क्रिकेट जिसमें पाकिस्तान की टीम ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर अनिल कुंबले के सामने घुटने टेक दिए थे, मैच किसे याद नहीं होगा। 7 फरवरी 1999 की वो तारीख हर क्रिकेट प्रेमी को याद होगी, जब अनिल कुंबले के सामने पाकिस्तानी टीम ताश के पत्तों की तरह ढह गई थी। कुंबले ने पाकिस्तानी टीम के 10 विकेट चुटकियों में चटका दिए थे। जिम लेकर के बाद कुंबले विश्व के पहले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में 10 विकेट लिए। 420 के बड़े स्कोर को हासिल करने के लिए जब पाकिस्तान की टीम मैदान में उतरी तब अनिल कुंबले ने टीम की सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

101 रन बनाते तक पाकिस्तान की टीम का एक भी विकेट नहीं गिरा था, तब लग रहा था कि पाकिस्तानी टीम शायद 420 का आंकड़ा पा लेगी। पाकिस्तान को भी यही उम्मीद थी, लेकिन अनिल कुंबले ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेरते हुए 101 के स्कोर पर पहला विकेट चटकाते हुए भारत का खाता खोला। कुंबले ने पड़ोसी देश का पहला विकेट सईद अनवर को आउट किया। उसके बाद पाकिस्तानी टीम काफी मशक्कत के बाद भी टिक नहीं सकी। पूरी पाकिस्तानी टीम मिलकर मात्र 207 रन ही बना सकी और उनके दस विकेट झटक लिए गए। कुंबले ने एक के बाद एक सभी दस विकेट झटके।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और पूर्व कप्तान का जन्म 17 अक्टूबर 1970 के दिन कर्नाटक के बेंगलुरु में हुआ था। उन्होंने 1990 से लेकर 2008 तक लगातार 18 साल तक क्रिकेट खेला। कुंबले ने अपने करियर का पहला एक दिवसीय मैच 25 अप्रैल 1990 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था और आखिरी एक दिवसीय मैच 19 मार्च 2007 में बरमूडा के खिलाफ खेला था। टेस्ट क्रिकेट में कुंबले ने 9 अगस्त 1990 में पहला मैच इंग्लैंड के खिलाफ खेला था और आखिरी टेस्ट मैच 29 अक्टूबर 2008 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ था। भारत की ओर से 500 विकेट लेने वाले वह पहले खिलाड़ी हैं। कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में कुल 619 विकेट लिए और वह तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले ने क्रिकेट में 19 की उम्र में कर्नाटक का प्रतिनिधित्व करते हुए डेब्यू किया था। कुंबले ने 1990 से ही भारत के लिए खेलते हुए 132 टेस्ट मैच खेले और 271 एक दिवसीय मैच खेले। कुंबले को 2005 में पद्मश्री अवॉर्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। लगातार 18 साल तक खेलने के बाद कुंबले ने नवंबर 2008 में संन्यास का ऐलान किया। 2012 में कुंबले को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल की क्रिकेट कमिटी का चेयरमैन नियुक्त किया गया। कुंबले को 24 जून 2016 में एक साल के लिए भारतीय टीम का कोच बनाया गया, लेकिन उन्होंने एक साल का समय पूरा होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App