ताज़ा खबर
 

श्रीलंका दौरा: मिश्रा की चार साल बाद टेस्ट टीम में वापसी, कोहली को कमान

लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने आज चार साल बाद भारतीय टेस्ट टीम में वापसी की जबकि अनुभवी हरभजन सिंह को भी आगामी श्रीलंका दौरे के लिये 15 सदस्यीय भारतीय क्रिकेट टीम..

Author July 23, 2015 1:11 PM
टेस्ट टीम के चयन के लिए राष्ट्रीय चयनकर्ताओं से बातचीत करते भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली। (स्रोत-BCCI)

लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने आज चार साल बाद भारतीय टेस्ट टीम में वापसी की जबकि अनुभवी हरभजन सिंह को भी आगामी श्रीलंका दौरे के लिये 15 सदस्यीय भारतीय क्रिकेट टीम में जगह दी गई है। बत्तीस बरस के मिश्रा के अलावा बांग्लादेश में इस महीने की शुरुआत में एक टेस्ट खेलने वाली टीम में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

लेग स्पिनर कर्ण शर्मा को चोट के कारण बाहर रखा गया है जबकि युवा बल्लेबाज के एल राहुल ने टीम में जगह बरकरार रखी है। बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने चयन समिति की बैठक के बाद टीम का ऐलान किया। बैठक में टेस्ट कप्तान विराट कोहली भी मौजूद थे।

चयनकर्ताओं ने गौतम गंभीर, वीरेंद्र सहवाग और प्रज्ञान ओझा जैसे सीनियर खिलाड़ियों को फिर जगह नहीं दी है। खराब फार्म में चल रहे रविंद्र जडेजा को भी बाहर रखा गया है। मुख्य चयनकर्ता संदीप पाटिल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा,‘‘अमित मिश्रा हमेशा रणनीति का हिस्सा था। पिछले साल वह रिजर्व में था। अंतिम एकादश का चयन कप्तान करता है। हालात को देखते हुए इस दौरे के लिये हमने उसे चुना।’’

HOT DEALS
  • BRANDSDADDY BD MAGIC Plus 16 GB (Black)
    ₹ 16199 MRP ₹ 16999 -5%
    ₹1620 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15399 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback

उन्होंने कहा,‘‘प्रज्ञान के नाम पर भी चर्चा की गई लेकिन सिर्फ 15 खिलाड़ियों को चुना जा सकता था और श्रीलंका की पिचों को देखते हुए हमने मिश्रा को तरजीह दी।’’

पाटिल ने कहा कि कर्ण और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अभी चोटों से उबरे नहीं है लिहाजा उनके नाम पर चर्चा नहीं की गई। उन्होंने कहा,‘‘हम हमेशा सही संतुलन बनाने की कोशिश करते हैं। यह श्रीलंका दौरे के लिये सर्वश्रेष्ठ टीम संयोजन है।’’

कर्ण शर्मा को चोट की वजह से अमित मिश्रा के लिये टेस्ट टीम में वापसी आसान हो गई। ओझा, पीयूष चावला और अक्षर पटेल टेस्ट टीम में चयन के दावेदार नहीं थे। मिश्रा ने आखिरी टेस्ट इंग्लैंड के खिलाफ अगस्त 2011 में ओवल पर खेला था।

यह पूछने पर कि क्या चयनकर्ताओं ने गंभीर जैसे सीनियर खिलाड़ियों पर बात की, पाटिल ने कहा,‘‘उन पर कोई बात नहीं की गई।’’

चयनकर्ताओं ने तीन विशेषज्ञ स्पिनरों आर अश्विन, हरभजन और मिश्रा को चुना जबकि टीम में चार तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव और वरुण आरोन होंगे। शिखर धवन और मुरली विजय पारी का आगाज करेंगे। मध्यक्रम में कप्तान विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा और के एल राहुल होंगे।

रिधिमान साहा टीम में एकमात्र विकेटकीपर होंगे। तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला का पहला मैच 12 अगस्त से खेला जायेगा।

पाटिल ने कहा,‘‘साहा इस समय सही विकल्प है। महेंद्र सिंह धोनी की जगह लेना आसान नहीं है लेकिन उसकी बल्लेबाजी क्षमता को देखते हुए वह अच्छा संतुलन बना सकता है।’’उन्होंने कहा कि जिम्बाब्वे दौरे पर खिलाड़ियों के प्रदर्शन को ध्यान में रखा गया।

उन्होंने कहा,‘‘हमने जिम्बाब्वे दौरे पर बात की। मेरे सह चयनकर्ता वहां थे और उन्होंने फीडबैक दिया है। हम प्रदर्शन से खुश हैं। हमारा फोकस उम्र पर नहीं बल्कि खिलाड़ियों की फिटनेस पर है और यह भी देखना है कि टीम संयोजन में खिलाड़ी के लिये जगह है या नहीं।’’

कोहली के कप्तान बनने से टेस्ट टीम की तस्वीर बदलने के बारे में पूछने पर पाटिल ने कहा कि यह स्वाभाविक है।
उन्होंने कहा,‘‘कप्तान के बदलने से कुछ बदलाव आयेंगे जो स्वाभाविक है। धोनी टेस्ट कप्तान के तौर पर काफी कामयाब रहे। उम्मीद है कि विराट अच्छी शुरुआत करेंगे।’’

उन्होंने कहा,‘‘जब सचिन तेंदुलकर, दादा (सौरव गांगुली), और वीवीएस लक्ष्मण रिटायर हुए तो हमें लगा था कि उनके कोई विकल्प नहीं मिल सकेंगे लेकिन हमने तलाशे। हमारा काम अपने खिलाड़ियों पर भरोसा रखना है।’’

पहला टेस्ट गाले में 12 से 16 अगस्त तक, दूसरा और तीसरा कोलंबो (20 से 24 अगस्त और 28 अगस्त से दो सितंबर) में खेला जायेगा।

टीम: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, के एल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, रिधिमान साहा, हरभजन सिंह, आर अश्विन, उमेश यादव, ईशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, अमित मिश्रा और वरुण आरोन।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App