scorecardresearch

विराट कोहली के बाद 26 साल की स्मृति मंधाना को सताई वर्कलोड और चोट की चिंता, इस बड़े टूर्नामेंट से हट सकती हैं भारतीय ओपनर

एक ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्मृति मंधाना ने कहा, ‘मेंटल पार्ट से ज्यादा, यह फिजिकल पार्ट के मैनेजमेंट के बारे में है। मैं निश्चित रूप से वुमन्स बिग बैश लीग से हटने के बारे में सोचूंगी, क्योंकि मैं किसी भी परेशानी के कारण भारत के लिए खेलने से चूकना नहीं चाहती।’

विराट कोहली के बाद 26 साल की स्मृति मंधाना को सताई वर्कलोड और चोट की चिंता, इस बड़े टूर्नामेंट से हट सकती हैं भारतीय ओपनर
स्मृति मंधाना ने यह भी कहा कि द हंड्रेड और डब्ल्यूबीबीएल जैसे टूर्नामेंट्स ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को अपनी बेंच स्ट्रेंथ का विस्तार करने में मदद की है। (सोर्स- इंस्टाग्राम/स्मृति मंधाना)

विराट कोहली (Virat Kohli) के बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम की उप-कप्तान स्मृति मंधाना ने भी वर्कलोड मैनेजमेंट को लेकर चर्चा की है। महज 26 साल की स्मृति मंधाना ने महिला बिग बैश लीग (WBBL) से हटने का भी संकेत दिया। ऐसा वह इसलिए कर सकती हैं ताकि वह किसी भी चोट और परेशानी से बची रहें और यह सुनिश्चित हो सके कि भारत के लिए खेलने से नहीं चूकें।

स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) हाल के दिनों में काफी क्रिकेट खेल रही हैं। उन्होंने कहा कि क्रिकेट मैच की संख्या को देखते हुए फिजिकल पार्ट को मैनेज करना महत्वपूर्ण हो जाता है। मंधाना ने सोमवार (12 सितंबर) को एक ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मैं विश्व कप के बाद कुछ समय के लिए फ्री रही हूं। लेकिन मैंने अभी खुद को यह बताने की कोशिश की है कि कोरोना (COVID-19) के कारण हम ज्यादा क्रिकेट नहीं खेल सके। हमें वास्तव में उम्मीद थी कि हम लौट सकते हैं और बहुत सारी क्रिकेट खेल सकते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘महिला क्रिकेटर के तौर पर हम हमेशा से अपने लिए इस तरह का शेड्यूल चाहते थे। लेकिन मेंटल पार्ट से ज्यादा, यह फिजिकल पार्ट के मैनेजमेंट के बारे में है। मैं निश्चित रूप से वुमन्स बिग बैश लीग (डब्ल्यूबीबीएल) से बाहर निकलने के बारे में सोचूंगी, क्योंकि मैं किसी भी परेशानी के कारण भारत के लिए खेलने से चूकना नहीं चाहती।’

स्मृति मंधाना ने यह भी कहा कि द हंड्रेड और डब्ल्यूबीबीएल जैसे टूर्नामेंट्स ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को अपनी बेंच स्ट्रेंथ का विस्तार करने में मदद की है। उन्हें उम्मीद है कि भारत भी भविष्य में ऐसा ही कर सकता है।

उन्होंने कहा, ‘द हंड्रेड और द बिग बैश अपने-अपने देशों के साथ-साथ विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी अद्भुत टूर्नामेंट रहे हैं। हमें बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है, लेकिन ये टूर्नामेंट उनकी बेंच स्ट्रेंथ में भी काफी इजाफा करते हैं। अगर भारतीय क्रिकेट के साथ भी ऐसा ही कुछ होता है, तो इससे काफी मदद मिलेगी।’

इंग्लैंड की महिला टीम ने शनिवार 10 सितंबर को भारत के खिलाफ 3 मैच की टी20 सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाई। उसने पहला मैच नौ विकेट से जीता। स्मृति मंधाना ने हार पर निराशा जाहिर करते हुए कहा कि भारत शेष श्रृंखला में वापसी की उम्मीद कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘बतौर टीम पिछले कुछ महीनों में हम क्रिकेट के ब्रांड के रूप में नहीं खेले हैं। इसलिए निश्चित रूप से हम निराश थे, लेकिन हमने इसे सिर्फ एक बुरे दिन के रूप में लिया। हम जानते हैं कि मजबूती के साथ वापसी करेंगे।’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.