ताज़ा खबर
 

टेस्ट सीरीज हारने पर महेंद्र सिंह धोनी के बाद अब इस क्रिकेटर ने किया विराट कोहली का बचाव

भारत दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका से हार टेस्ट सीरीज गंवा चुका है। ये विराट कोहली की कप्तानी में पहली सीरीज की हार है। इसके बाद से कप्तान और कोच आलोचनाओं का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में दो दिग्गज खिलाड़ियों ने कप्तान का बचाव किया है।

विराट कोहली। (फोटो सोर्स- क्रिकइंफो)

टेस्ट सीरीज हारने के बाद आलोचनाओं का शिकार होने वाले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को महेंद्र सिंह धोनी के बाद अब हरभजन सिंह का भी साथ मिल चुका है। हरभजन सिंह का मानना है कि सेंचुरियन टेस्ट के लिए चयन प्रक्रिया पर आलोचना झेल रहे कोहली का पूरा सपोर्ट किया जाना चाहिए क्योंकि कप्तान के तौर पर यह ‘उनका विदेश का पहला चुनौतीपूर्ण दौरा’ है। भारतीय टीम केपटाउन में 208 और सेंचुरियन में 287 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण के नतमस्तक हो गई, जिससे वह तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 0-2 से पिछड़ रही है।

कोहली ने दूसरे टेस्ट में भुवनेश्वर कुमार को टीम में शामिल नहीं किया था, जबकि इस तेज गेंदबाज ने केपटाउन में अच्छा प्रदर्शन किया था और अभी तक अंतिम एकादश में अजिंक्य रहाणे को शामिल नहीं किया है। हरभजन ने आगे कहा, ‘हर कोई सुधार करना चाहता है। इस समय टीम को समर्थन की जरूरत है। हम उम्मीद के अनुरूप नहीं खेले हैं। शायद अगली बार। यह सीखने के लिये अच्छी चीज है। उम्मीद है कि हम मजबूती से वापसी करेंगे। उन्हें एक दूसरे का समर्थन करने की जरूरत है।’

कोहली के पास जहां मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण है, जिसमें उन्हें आफ स्पिनर आर अश्विन का पूरा समर्थन मिल रहा है लेकिन हरभजन ने भारतीय कप्तान की तुलना पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से करने से इनकार कर दिया।

हरभजन ने कहा, ‘मैं तुलना नहीं करना चाहता। यह अलग दौर की बात है। हर बार हमने वहां का दौरा किया, हमारे पास जीतने का अच्छा मौका था। मैं अलग दौर की टीमों की तुलना नहीं करना चाहता। कोहली की धोनी से या फिर पूर्व खिलाड़ियों जैसे राहुल द्रविड़, वीवीएस और सचिन से। कप्तानी के साथ काफी जिम्मेदारी भी आती है। उसने अभी तक सचमुच काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। यह उसकी सही मायने में पहली विदेशी चुनौती थी। मैं श्रीलंका के दौरे को विदेश की चुनौती नहीं कहूंगा क्योंकि वहां के हालात भारत जैसे ही हैं।’

बता दें कि धोनी शुक्रवार को कोहली का बचाव करते हुए कहा कि ‘फैक्ट यह है कि भारतीय गेंदबाज मैच में 20 विकेट ले रहे हैं, जो यह दिखाता है कि हम जीत से ज्यादा दूर नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आप भारत में खेलें या विदेश में अगर आप 20 विकेट नहीं ले सकते तो आप टेस्ट मैच नहीं जीत सकते। बड़ा सकारात्मक पहलू यह है कि हम 20 विकेट ले रहे हैं। इसका मतलब यह हुआ कि हम हमेशा मैच जीतने की स्थिति में रहेंगे बस एक बार रन बनाना शुरू कर दें।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App