ताज़ा खबर
 

रिकॉर्ड 264 रन की पारी खेलने के बाद रोहित शर्मा ने कहा ‘अभी भी बहुत कुछ हासिल करना है’

कोलकाता। वनडे क्रिकेट में दो दोहरे शतक जमाने वाले पहले बल्लेबाज बनने के बावजूद रोहित शर्मा ने कहा कि अभी काफी कुछ हासिल करना बाकी है क्योंकि अब अपेक्षायें और जिम्मेदारियां बढती जाएगी । श्रीलंका पर चौथे वनडे में 153 रन से मिली जीत में रोहित ने रिकार्ड 264 रन की पारी खेली । यह […]

Author November 14, 2014 3:20 PM
रोहित शर्मा ने कहा कि अभी काफी कुछ हासिल करना बाकी है (फोटो: भाषा)

कोलकाता। वनडे क्रिकेट में दो दोहरे शतक जमाने वाले पहले बल्लेबाज बनने के बावजूद रोहित शर्मा ने कहा कि अभी काफी कुछ हासिल करना बाकी है क्योंकि अब अपेक्षायें और जिम्मेदारियां बढती जाएगी ।

श्रीलंका पर चौथे वनडे में 153 रन से मिली जीत में रोहित ने रिकार्ड 264 रन की पारी खेली । यह वनडे में न सिर्फ सबसे बड़ी पारी है बल्कि वह 50 ओवरों के क्रिकेट में दो दोहरे शतक जमाने वाले पहले बल्लेबाज भी बन गए । उन्होंने सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग को पछाड़ा ।

रोहित ने यहां पत्रकारों से कहा ,‘‘ मुझे अभी बहुत कुछ करना है । जब मैं युवा था और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना चाहता था तब मैने कभी सोचा नहीं था कि ऐसा होगा ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ रिकार्ड बनते रहते हैं । मुझे और मेहनत करनी होगी क्योंकि यहां से अपेक्षायें भी बढती जायेंगी । मुझे लगता है कि मेरे कंधे पर जिम्मेदारी भी अधिक होगी ।’’

चोट के कारण वापसी करते हुए कल पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले रोहित ने कहा कि पिछली नाकामियां उनकी प्रगति नहीं रोक सकती ।

उन्होंने कहा ,‘‘ आपको सफलता और विफलता को स्वीकार करके आगे बढना होगा । मैने भी ऐसा ही किया है । विदेश में कुछ नाकामियों से मेरा क्रिकेट नहीं रूक सकता । मेरा क्रिकेट और मेरी मेहनत जारी रहेगी । मैं मेहनत करता रहूंगा ।’’

रोहित ने अपनी रिकार्डतोड़ पारी की शुरूआत धीमी की थी और एंजेलो मैथ्यूज ने उन्हें पहला ओवर मैडन फेंका । रोहित ने 24 गेंद में 28 रन बनाने वाले अपने जोड़ीदार अजिंक्य रहाणे को दबाव हटाने का श्रेय दिया ।

रोहित ने कहा ,‘‘ चोट के कारण दो महीने बाद वापसी के कारण शुरू में मुझे दिक्कत आई । मैं खुलकर स्ट्रोक नहीं लगा पा रहा था । शुरूआती 10 . 15 ओवर आसान नहीं थे । मैं खुद से कहता रहा कि मुझे टिककर खेलना है । रहाणे की आक्रामक पारी ने मुझे जमने में मदद की । मैं इस मैच को अपने और टीम के लिये खास बनाना चाहता था ।’’

उन्होंने बीसीसीआई के फिजियो वैभव डागा को भी धन्यवाद दिया ।

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे यकीन है कि वह काफी खुश होंगे । पिछले दो महीने बहुत कठिन थे । मैं बीसीसीआई के फिजियो वैभव डागा को धन्यवाद देना चाहता हूं । हम दोनों के लिये यह बड़ी चुनौती थी । उन्होंने मेरे साथ काफी मेहनत की ।’’

यह पूछने पर कि क्या दोहरा शतक पूरा करने के बाद सहवाग का 219 रन का रिकार्ड उनके जेहन में था, रोहित ने कहा ,‘‘ पिछली बार मैने 209 रन बनाये थे और मैं 10 रन से चूक गया था । बल्लेबाजी करते समय मैं इस बारे में नहीं सोच रहा था । मैं हैरान रह गया जब मेरे साथी खिलाड़ियों ने खड़े होकर मेरा अभिवादन किया और फिर मुझे लगा कि शायद मैने उस स्कोर को पार कर लिया है ।’’

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App