ताज़ा खबर
 

जीत के बाद बोले संगकारा, अब भी बल्लेबाज़ी का आनंद ले रहा हूं

श्रीलंका के स्टार बल्लेबाज कुमार संगकारा ने यहां कहा कि भले ही उम्र उन पर हावी हो रही है लेकिन वह अब भी बल्लेबाजी का पूरा लुत्फ उठा रहे हैं। संगकारा ने इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप मैच में 117 रन की नाबाद पारी खेली तथा लाहिरू तिरिमाने (139) के साथ मिलकर अपनी टीम को […]

Author March 1, 2015 3:05 PM
खेल मंत्री कहा कि उन्हें उम्मीद है कि श्रीलंका क्रिकेट में आमूलचूल बदलाव के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से 37 वर्षीय संगकारा कुछ और समय खेलने के लिए मान जाएंगे। (फ़ोटो-रॉयटर्स)

श्रीलंका के स्टार बल्लेबाज कुमार संगकारा ने यहां कहा कि भले ही उम्र उन पर हावी हो रही है लेकिन वह अब भी बल्लेबाजी का पूरा लुत्फ उठा रहे हैं।

संगकारा ने इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप मैच में 117 रन की नाबाद पारी खेली तथा लाहिरू तिरिमाने (139) के साथ मिलकर अपनी टीम को जीत दिलायी। इन दोनों की शतकीय पारियों से श्रीलंका ने जो रूट के सैकड़े पर पानी फेरकर 310 रन का लक्ष्य एक विकेट खोकर हासिल कर लिया।

संगकारा ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमें टिककर खेलने की जरूरत थी। 300 से अधिक रन का लक्ष्य हासिल करना मुश्किल होता है लेकिन यह उन दिनों में था जब बल्लेबाजों को कड़ी मेहनत करनी होती है। मेरी उम्र बढ़ती जा रही है लेकिन मैं बल्लेबाजी का पूरा लुत्फ उठा रहा हूं।’’

तिरिमाने और तिलकरत्ने दिलशान ने पहले विकेट के लिये 100 रन जोड़कर श्रीलंका को अच्छी शुरुआत दिलायी थी।
संगकारा ने कहा, ‘‘विकेट बहुत अच्छा था लेकिन श्रेय सलामी बल्लेबाजों को जाता है। उन्होंने हमें शानदार शुरुआत दिलायी। तिरिमाने ने शानदार बल्लेबाजी की। वह एक से नौ नंबर तक किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी कर सकता है। उसे शतक बनाते हुए देखकर अच्छा लगा।’’

श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने संगकारा और तिरिमाने की जमकर तारीफ की और कहा कि उन्होंने इस तरह की शानदार पारियां पहले नहीं देखी थी। मैथ्यूज ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि 310 रन का लक्ष्य काफी ज्यादा था लेकिन संगकारा और तिरिमाने ने शानदार साझेदारी की। हम जानते थे कि हम 300 से अधिक का लक्ष्य हासिल कर सकते हैं लेकिन उन्होंने दो शानदार पारियां खेली। हमने पहली बार ऐसी पारियां देखी।’’

मैथ्यूज ने कहा, ‘‘यदि गेंदबाज असफल रहते हैं तो बल्लेबाजों को जिम्मेदारी संभालने की जरूरत है और पिछले कुछ दिनों से हमारे शीर्ष क्रम के चार बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। इस विश्व कप में 300 से अधिक का लक्ष्य बहुत टीमों ने हासिल नहीं किया लेकिन यह शानदार प्रदर्शन था।’’

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने हार के लिये गेंदबाजों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘‘हमें एक बेहद अनुभवी टीम ने कड़ी सजा दी। हम अपेक्षानुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाये। हमने आज अच्छी गेंदबाजी नहीं की। हमने लगभग प्रत्येक ओवर में एक खराब गेंद की जिसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने अच्छा स्कोर बनाया। जो रूट ने शानदार बल्लेबाजी की और पहली पारी समाप्त होने के बाद मैं खुश था। लेकिन गेंदबाजों ने हमें निराश किया। हमारी गेंदबाजी में विविधता है। हमारे पास दो लंबे कद के गेंदबाज और दो स्विंग गेंदबाज है। जब हम अच्छी गेंदबाजी करते हैं तो यह बेहतर आक्रमण है। आज उन्होंने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App