ताज़ा खबर
 

स्मिथ-वॉर्नर पर बैन का मिल सकता है फायदा, 71 साल बाद टीम इंडिया के पास इतिहास रचने का सुनहरा मौका

स्टीव स्मिथ ने अपने देश में 2014 में भारत के खिलाफ 4 टेस्ट मैचों में 769 रन बनाए थे। वह पूरी सीरीज में टीम इंडिया के लिए सिरदर्द साबित हुए थे और भारत सीरीज गंवा बैठा था।

टीम इंडिया। (Photo Courtesy: ICC)

बॉल टैंपरिंग मामले में दोषी पाए जाने के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड ने डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ पर एक-एक साल का बैन लगा दिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में इस साल नवंबर-दिसंबर के बीच 4 टेस्ट मैच खेलने हैं। बैन के चलते इस सीरीज में ये दोनों दिग्गज खिलाड़ी हिस्सा नहीं ले सकेंगे, जिसका टीम इंडिया को फायदा मिल सकता है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया में 71 सालों में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। ऐसे में उसके पास इतिहास रचने का सुनहरा मौका होगा। स्टीव स्मिथ ने अपने देश में 2014 में भारत के खिलाफ 4 टेस्ट मैचों में 769 रन बनाए थे। वह पूरी सीरीज में टीम इंडिया के लिए सिरदर्द साबित हुए थे और भारत सीरीज गंवा बैठा था।

भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा (टेस्ट सीरीज):

1947-48 : ऑस्ट्रेलिया 4-0 से जीता (5 मैच)
1967-68: ऑस्ट्रेलिया 4-0 से जीता (5 मैच)
1977-78: ऑस्ट्रेलिया 3-2 से जीता (5 मैच)
1980-81: सीरीज 1-1 से ड्रॉ (3 मैच)
1985-86: सीरीज 0-0 से ड्रॉ (3 मैच)
1991-92: ऑस्ट्रेलिया 4-0 से जीता (5 मैच)
1999-2000:ऑस्ट्रेलिया 3-0 से जीता (3 मैच)
2003-04: सीरीज 1-1 से ड्रॉ (4 मैच)
2007-08: ऑस्ट्रेलिया 2-1 से जीता (4 मैच)
2011-12: ऑस्ट्रेलिया 4-0 से जीता (4 मैच)
2014-15: ऑस्ट्रेलिया 2-0 से जीता (4 मैच)

केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बैनक्रॉफ्ट को गेंद के साथ पीले टेप से छेड़छाड़ करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। बाद में स्मिथ और बैनक्रॉफ्ट ने यह बात मानी कि गेंद से छेड़खानी टीम की योजना थी। जांच में वॉर्नर इसमें शामिल पाए गए। इसके बाद सीए ने स्मिथ और वॉर्नर को तीसरे टेस्ट मैच के बाकी दिनों के लिए इनके पदों से हटा दिया था। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने भी स्मिथ पर एक टेस्ट मैच का प्रतिबंध, पूरी मैच फीस का जुर्माना और बैनक्रॉप्ट पर मैच फीस का 75 फीसदी जुर्माना लगाया था।

सीए ने बयान में कहा, “अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट खेलने पर लगे प्रतिबंध के समाप्त होने के कम से कम 12 महीने तक स्टीम स्मिथ और कैमरून बैनक्रॉफ्ट के नाम पर कप्तानी के लिए विचार नहीं होगा। भविष्य में नेतृत्व पर विचार की कोई भी संभावना शर्तिया होगी, जो प्रशंसकों और जनता की स्वीकार्यता के अलावा फॉर्म और खिलाड़ियों के ग्रुप के बीच स्थिति पर निर्भर करेगी। टीम की कप्तानी के लिए भविष्य में डेविड वॉर्नर के नाम पर विचार नहीं होगा।”

स्टीव स्मिथ, कैमरून बैनक्रॉफ्ट और डेविड वॉर्नर तीनों ही खिलाड़ियों को सीए द्वारा इस मामले में की गई जांच में इन तीनों खिलाड़ियों को बोर्ड की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.3.5 का दोषी पाया गया था। कैमरून पर नौ महीने का बैन लगाया गया है। वहीं वॉर्नर और स्मिथ आईपीएल सीजन-11 से भी हाथ धो बैठे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App