इन 5 वजहों से भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं हार्दिक पंड्या- 5 reasons why Hardik Pandya deserves a run in Test cricket indian cricket team india vs srilanka - Jansatta
ताज़ा खबर
 

इन 5 वजहों से भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं हार्दिक पंड्या

हार्दिक पांड्या ने पाकिस्तान के खिलाफ चैम्पियंस ट्रॉफी फाइनल में शानदार प्रदर्शन किया था।

चैम्पियंस ट्रॉफी के मैच में पाकिस्तान के खिलाफ अंतिम ओवर में पंड्या ने 3 छक्के लगाए थे। फोटो-रॉयटर्स

अपने शानदार प्रदर्शन से सबको हैरान करने वाले भारतीय अॉलराउंडर हार्दिक पंड्या ने बेहद कम वक्त में शानदार मुकाम हासिल किया है। इसी की बदौलत उन्हें श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मौका दिया गया है। चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच में पंड्या की बल्लेबाजी ने सबको उनका फैन बना दिया था। आपको बताते हैं वो 5 कारण, जो साबित करते हैं कि पंड्या को टेस्ट क्रिकेट में मौका मिलना क्यों जरूरी था।

तेज अॉलराउंडर गेंदबाज: रविचंद्रन अश्विन के बतौर अॉलराउंडर आने के बाद टीम के निचले अॉर्डर में थोड़ी मजबूती आई है। कई बार अश्विन और रिद्धिमान साहा ने टीम को मुश्किलों से उबारा है। लेकिन छठे या सातवें नंबर पर पंड्या के आने से टीम में एक अन्य फिनिशर की कमी भी पूरी हुई है। वह गेंदबाजी भी अच्छी करते हैं, जो टीम के लिए बोनस है।

पेस बैटरी में मजबूती: जबसे विराट कोहली कप्तान बने हैं, तब से टीम की पेस बैटरी में गजब का उत्साह है। इशांत, भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव ने बीते दिनों शानदार प्रदर्शन किया है। कोहली हमेशा तेज गेंदबाजों पर भरोसा करते हैं। हार्दिक के आने से तेज गेंदबाजी में और धार आई है, क्योंकि उनकी बॉलिंग में वेरिएशन नजर आती है और वह बल्लेबाजों में खौफ भी पैदा करना जानते हैं।

आक्रामक बल्लेबाज: पहले टेस्ट क्रिकेट दर्शकों को बोरिंग लगता था। लेकिन वीरेंद्र सहवाग जैसे बल्लेबाजों ने दिखाया कि इस प्रारूप में तेज खेलकर भी विपक्षी टीम पर दबाव बनाया जा सकता है। इसके अलावा एडम गिलक्रिस्ट भी बेहद आक्रामक अंदाज में टेस्ट क्रिकेट खेलते थे। यही अप्रोच पंड्या की भी है।

युवाओं को मौका: अब तक सिर्फ वनडे टीम में ही युवाओं को मौका दिया जा रहा था। लेकिन इस बार टेस्ट क्रिकेट में भी एेसा हुआ है। अब तक यह माना जाता है कि टेस्ट क्रिकेट अनुभवी खिलाड़ियों के लिए है। लेकिन शिखर धवन और अजिंक्य रहाणे अब भी काफी युवा हैं और वह इस फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन भी कर रहे हैं। पंड्या के पास इस मैच में शानदार प्रदर्शन कर खुद को साबित करने का मौका है।

धोनी के उत्तराधिकारी: पंड्या को टीम इंडिया का अगला फिनिशर माना जा रहा है। कई मौकों पर उन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाजी से टीम को जीत दिलाई है। लेकिन एक अच्छे फिनिशर की जरूरत वनडे में ही नहीं, टेस्ट क्रिकेट में भी होती है। जब बात पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ रन बनाने की आती है, तो वहां पंड्या अहम रोल निभा सकते हैं। दबाव में वह और भी शानदार प्रदर्शन करते हैं।

देखें वीडियो ः

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App