ताज़ा खबर
 

इन 5 क्रिकेटर्स पर अजीब कारणों के चलते लग चुका है बैन, चौथा और पांचवा नाम देख रह जाएंगे दंग

क्रिकेट में कई बार खिलाड़ियों पर गलत बर्ताव या कोई नियम तोड़ने के कारण बैन लग चुका है। लेकिन यहां वजह कुछ और ही थी।

शोएब अख्तर, एंड्रयू सायमंड्स और शाहिद अफरीदी।

क्रिकेट और कंट्रोवर्सी एक दूसरे के समानांतर चलते हैं। कई बार खिलाड़ी अपने बर्ताव या नियमों का उल्लंघन के कारण बैन लगवा बैठते हैं। लेकिन मौके एेसे भी हुए हैं जब क्रिकेटर्स के एक-दो या पूरी सीरीज में खेलने पर बैन लगा दिया गया था, वह भी बेहद अजीब वजहों के कारण। आइए आपको बताते हैं उन क्रिकेटर्स के बारे में, जिन पर अजीब कारणों से बैन लगा दिए गए।

शोएब अख्तर: रावलपिंडी एक्सप्रेस का विवादों से पुराना नाता रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक पहले आईसीसी वर्ल्ड टी20 से पहले ड्रेसिंग रूम में उनकी शाहिद अफरीदी से झड़प हो गई। अफरीदी ने उन्हें कुछ आपत्तिनजक शब्द कहे थे, जिस पर अख्तर भड़क उठे। उनके हाथ में एक बैट था, जिससे वह अफरीदी को मारने दौड़ पड़े। लेकिन वह मोहम्मद आसिफ को लग गया। इसके चलते वह टी20 वर्ल्ड कप नहीं खेल पाए थे।

एंड्रयू सायमंड्स: साल 2008 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले टीम को मीटिंग के लिए बुलाया गया था, जिसके बाद ट्रेनिंग सेशन होना था। लेकिन सायमंड्स को इस बारे में मालूम नहीं था और वह मछली पकड़ने चले गए। इसके बाद उन्हें एक महीने की छुट्टी दे दी गई।

शाहिद अफरीदी: वनडे में सबसे ज्यादा छक्के जड़ चुके अफरीदी अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज में गेंद चबाते हुए पाए गए थे। उस वक्त वह राणा नावेद उल हसन के साथ चल रहे थे। तभी यह घटना कैमरे में कैद हो गई। उन पर आईसीसी के नियमों को तोड़ने और बॉल टेंपरिंग का आरोप लगा। इसके बाद उन पर दो टी20 मैचों का बैन लगा दिया गया।

रवींद्र जाडेजा: श्रीलंका के खिलाफ हाल ही में संपन्न हुई टेस्ट सीरीज में उन पर एक मैच का बैन लगाया गया था। दरअसल दूसरे टेस्ट के दौरान उन्होंने दिमुथ करुणारत्ने की ओर थ्रो फेंकी थी। इसे अंपायर ने खतरनाक तरीका करार दिया। उनके नाम तीन नेगेटिव पॉइंट्स दर्ज हो गए। इससे पहले न्यू जीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी उन्हें तीन नेगेटिव पॉइंट्स मिले थे। इसके बाद उनके तीसरे टेस्ट मैच खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

कपिल देव: भारत के लिए 132 टेस्ट मैच खेलने वाले कपिल पर भी एक मैच का प्रतिबंध लग चुका है। वजह थी गैर जिम्मेदाराना तरीके से खेलना। साल 1993-94 में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे मैच में भारत दूसरी पारी में 100 रन के स्कोर तक पहुंचने से कुछ ही दूर था। कपिल ने विस्फोटक अंदाज में खेलने की सोची। दूसरी गेंद पर उन्होंने छक्का मार दिया, लेकिन अगली गेंद पर वह आउट हो गए। इस एडिट्यूड के कारण उन पर एक मैच का प्रतिबंध लग गया।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App