दक्षिण अफ्रीका 214 रन पर ढेर, भारत की अच्छी शुरुआत - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दक्षिण अफ्रीका 214 रन पर ढेर, भारत की अच्छी शुरुआत

रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी के कमाल से दक्षिण अफ्रीका को 214 रन पर समेटने के बाद भारत ने शनिवार को यहां अपनी पहली पारी की शानदार शुरुआत..

Author बेंगलुरु | November 15, 2015 1:18 AM
भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के खिलाड़ी। (पीटीआई फाइल फोटो)

रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी के कमाल से दक्षिण अफ्रीका को 214 रन पर समेटने के बाद भारत ने शनिवार को यहां अपनी पहली पारी की शानदार शुरुआत करके दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में पहले दिन ही अपना पलड़ा भारी कर दिया। भारत ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक बिना किसी नुकसान के 80 रन बनाये हैं और वह अब दक्षिण अफ्रीका से केवल 134 रन पीछे है। स्टंप उखड़ने के समय शिखर धवन 45 और जीवनदान पाने वाले मुरली विजय 28 रन पर खेल रहे थे।

अश्विन (70 रन देकर चार विकेट) और जडेजा (50 रन देकर चार विकेट) ने फिर से अच्छी गेंदबाजी लेकिन दक्षिण अफ्रीका के अधिकतर बल्लेबाजों ने अपनी गलतियों से विकेट गंवाये। केवल एबी डिविलियर्स ने अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन वह भी अपने 100वें टैस्ट मैच में शतक बनाने से चूक गये। उन्होंने 105 गेंदों पर 85 रन बनाये जिसमें 11 चौके और एक छक्का शामिल है।

पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शून्य पर आउट होने वाले धवन ने तीसरे ओवर में अपना खाता खोला और फिर मोर्ने मोर्कल पर चौका जड़कर अपना आत्मविश्वास जगाया। जल्द ही दर्शकों को धवन का असली रूप देखने को मिला और उन्होंने कैगिसो रबादा और काइल एबोट की गेंदें भी सीमा रेखा के पार पहुंचायी। धवन ने अब अपनी 62 गेंद की पारी में सात चौके लगाये हैं।

उनके साथी विजय का हालांकि भाग्य ने साथ दिया क्योंकि जब वह 21 रन पर थे तब मोर्कल की गेंद पर पुल करने के प्रयास में उन्होंने स्क्वायर लेग पर गेंद हवा में उछाल दी लेकिन इमरान ताहिर ने हाथ में आया आसान कैच टपका दिया। विजय ने अभी 73 गेंद खेलकर पांच चौके लगाये हैं।

इससे पहले हाशिम अमला एंड कंपनी को पिच से मिल रहे टर्न के बजाय शॉट के गलत चयन के कारण परेशानी झेलनी पड़ी। डिविलियर्स ने हालांकि अपने साथियों को दिखाया कि उपमहाद्वीप की पिच पर कैसे बल्लेबाजी की जाती है। डिविलियर्स ने ‘एबीडी’, ‘एबीडी’ की गूंज के बीच मैदान पर कदम रखा। उन्होंने पहले आरोन पर चौका जड़ा और जब अश्विन ने शॉर्ट पिच गेंद की तो उसे स्क्वॉयर लेग क्षेत्र से सीमा रेखा के पार पहुंचाया।

लंच के बाद उन्होंने इशांत शर्मा पर अपने आफ ड्राइव का खूबसूरत प्रदर्शन किया। आरोन पर उन्होंने लगातार दो चौके लगाये। डिविलियर्स ने इसी गेंदबाज पर स्क्वॉयर कट से आठवां चौका जड़ा और अश्विन की गेंद बैकवर्ड स्क्वॉयर क्षेत्र में खेलकर अपना 38वां टेस्ट अर्धशतक पूरा किया। जडेजा ने जब गेंद को फ्लाइट देने की कोशिश की तो उन्होंने अपने फुटवर्क का उपयोग करके कवर ड्राइव से उसे सीमा रेखा के दर्शन कराये।

डिविलियर्स ने इस बीच डीन एल्गर (38) के साथ चौथे विकेट के लिये 33, जे पी डुमिनी (15) के साथ पांचवें विकेट के लिये 42 और डेन विलास (15) के साथ छठे विकेट के लिये 39 रन की साझेदारियां की। इनमें से कोई हालांकि डिविलियर्स की तरह जुझारूपन नहीं दिखा पाया।

दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों ने पहले सत्र में अश्विन और दूसरे सत्र में जडेजा के सामने घुटने टेके। इशांत शर्मा के साथ गेंदबाजी का आगाज करने वाले स्टुअर्ट बिन्नी बल्लेबाजों को खास परेशान नहीं कर पाये तो विराट कोहली ने आठवें ओवर में अश्विन को गेंद सौंपी और उन्होंने अपने पहले ओवर में ही दो विकेट निकाल दिये।

उनकी दूसरी गेंद फ्लाइट लेकर सीधे सलामी बल्लेबाज स्टियान वान जिल (दस) के पैड से टकरायी और वह पगबाधा आउट हो गये। फाफ डु प्लेसिस (शून्य) अश्विन की बदली हुई लेंथ के सामने अपने कदमों का इस्तेमाल करके गेंद को वहीं पर नीचे खेलना चाहते थे लेकिन वह बल्ले का किनारा लेकर शॉर्ट लेग पर चेतेश्वर पुजारा के पास पहुंच गयी जिन्होंने बेहद नीची रहती गेंद को कैच किया। तीसरे अंपायर ने हालांकि इसे साफ सुथरा कैच बताया लेकिन टीवी रीप्ले से लग रहा था कि गेंद का कुछ हिस्सा मैदान पर लगा था।

अमला (सात) ने तब क्रीज पर कदम रखा जब स्कोर दो विकेट पर 15 रन था लेकिन उनकी खराब फॉर्म बरकरार रही। उन्होंने एल्गर के साथ 30 रन की साझेदारी की, लेकिन दूसरे बदलाव के रूप में आये आरोन ने अपने तीसरे ओवर में ही दक्षिण अफ्रीकी कप्तान को आउट कर दिया। अमला ने गेंद की लाइन के अंदर आकर उसे खेलने की कोशिश की लेकिन वह बल्ले को चूमती हुई ऑफ स्टंप उखाड़ गयी। लंच तक स्कोर तीन विकेट पर 78 रन था।

भारत ने लंच के बाद की शुरुआत शानदार तरीके से की। जडेजा ने दूसरे सत्र में दूसरी गेंद पर ही एल्गर को आउट कर दिया जो अभी तक जुझारू खेल दिखा रहे थे। वह स्वीप शॉट खेलने के प्रयास में बोल्ड हो गये। इससे स्कोर चार विकेट पर 78 रन हो गया। डुमिनी इसके बाद क्रीज पर उतरे और दक्षिण अफ्रीका ने इन दोनों अनुभवी बल्लेबाजों की मौजूदगी में 32वें ओवर में अपना स्कोर 100 रन तक पहुंचाया।

अश्विन ने हालांकि डुमिनी को आउट करके अपना तीसरा विकेट लिया। अश्विन की ऑफ ब्रेक डुमिनी के बल्ले का किनारा लेकर स्लिप में अकेले खड़े अजिंक्य रहाणे के पास चली गयी। विलास ने कुछ स्ट्रोक खेले लेकिन वह भी लंबे समय तक नहीं टिक पाये। उन्होंने जडेजा की गेंद आगे बढ़कर खेलने के प्रयास में गेंदबाज को वापस कैच थमाया।

मोर्ने मोर्कल (22) और काइल एबोट (14) ने कुछ रन बटोरे लेकिन अश्विन और जडेजा ने दक्षिण अफ्रीकी पारी समेटने में ज्यादा देर नहीं लगायी। अश्विन ने मोर्कल को बिन्नी के हाथों कैच कराकर अपने ही राज्य तमिलनाडु के एस वेंकटराघवन (156 टेस्ट विकेट) को पीछे छोड़ा। वह हरभजन सिंह (417) और ईरापल्ली प्रसन्ना (189) के बाद भारत की तरफ से सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले ऑफ स्पिनरों की सूची में तीसरे नंबर पर पहुंच गये हैं।
दक्षिण अफ्रीका पहली पारी :

स्टियान वान जिल पगबाधा बो अश्विन 10
डीन एल्गर बो जडेजा 38
फाफ डु प्लेसिस का पुजारा बो अश्विन 00
हाशिम अमला बो आरोन 07
एबी डिविलियर्स का साहा बो जडेजा 85
जेपी डुमिनी का रहाणे बो अश्विन 15
डेन विलास का एवं बो जडेजा 15
काइब एबोट रन आउट 14
कैगिसो रबादा का पुजारा बो जडेजा 00
मोर्ने मोर्कल का बिन्नी बो अश्विन 22
इमरान ताहिर नाबाद 00

अतिरिक्त 08
कुल : 59 ओवर में, सभी आउट : 214
विकेट पतन :1-15, 2-15, 3-45, 4-78, 5-120, 6-159, 7-177, 8-177, 9-214

गेंदबाजी
इशांत 13-3-40-0
बिन्नी 3-2-1-0
अश्विन 18-2-70-4
आरोन 9-0-51-1
जडेजा 16-2-50-4

भारत पहली पारी:

मुरली विजय खेल रहे हैं 28
शिखर धवन खेल रहे हैं 45

अतिरिक्त: 07
कुल: 22 ओवर में बिना विकेट खोए: 80 रन

गेंदबाजी:

मोर्कल 7-1-23-0
एबोट 6-1-18-0
रबादा 5-1-17-0
डुमिनी 2-0-9-0
ताहिर 2-0-9-0

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App