ताज़ा खबर
 

अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की ओर से लिए थे सबसे ज्यादा विकेट, इंजीनियरिंग के लिए छोड़ी क्रिकेट, अब अमेरिकी टीम के कप्तान बने सौरभ नेत्रवलकर

नेत्रवलकर ने कहा, 'मैंने पूरे दो साल क्रिकेट को दिए लेकिन मैंने महसूस किया कि मैं गेम को अगले लेवल तक नहीं पहुंचा पा रहा था।'

Author Updated: November 4, 2018 11:29 AM
(photo source – facebook.com/netravalkar)

मुंबई के पूर्व मीडियम आर्म पेसर 27 साल के सौरभ नेत्रवलकर को अमेरिका की नैशनल क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया है। उन्होंने अमेरिकी कॉरनेल यूनिवर्सिटी में कम्प्यूटर साइंस पढ़ने के लिए क्रिकेट छोड़ दी थी। छह फुट लंबा यह बाएं हाथ का गेंदबाज 2010 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाला गेंदबाज था। इस सीरीज में उसने इंग्लैंड के जो रूट और पाकिस्तान के अहमद शहजाद का भी विकेट लिया, जिन्होंने अब विश्व क्रिकेट में एक मुकाम हासिल कर लिया है। इसके तीन साल बाद, नेत्रवलकर ने कर्नाटक के खिलाफ मुंबई की ओर से इकलौता रणजी मैच खेला और 3 विकेट हासिल किए।

नेत्रवलकर ने अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, ‘मैंने पूरे दो साल क्रिकेट को दिए लेकिन मैंने महसूस किया कि मैं गेम को अगले लेवल तक नहीं पहुंचा पा रहा था।’ बता दें कि वह मुंबई के सरदार पटेल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी से इंजीनियरिंग में स्नातक हैं। इसके बाद, जीआरई और टोफेल की परीक्षाएं देकर वे मास्टर्स डिग्री लेने 2015 में अमेरिका चले गए। यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान उन्होंने अपने क्रिकेट के हुनर को एक बार फिर निखारा और मैदान पर नई भूमिका में उतरने को तैयार हुए। यहां तक कि सौरभ ने बतौर सॉफ्टवेअर इंजीनियर नौकरी भी शुरू की, लेकिन उन्होंने अपने पैशन को जिंदा रखा।

वह वीकेंड पर शुक्रवार को सैन फ्रांसिस्को से लॉस एंजिलिस एक अन्य क्रिकेटर के साथ गाड़ी चलाकर आते थे। शनिवार को लॉस एंजिलिस में 50 ओवर का मैच खेलते थे। इसके बाद, रात को गाड़ी चलाकर वापस सैन फ्रांसिस्को आते थे। यहां रविवार को वह फिर 50 ओवर का मैच खेलते थे। फिर सोमवार को वह वापस नौकरी पर लौट आते थे। यह सौरभ की कोशिशों का ही नतीजा है कि इस साल जनवरी में सिलेक्टर्स की उन पर नजर पड़ी। बता दें कि अमेरिका में क्रिकेट का प्रसार तेजी से हो रहा है। यहां 48 राज्यों में यह खेला जाता है। इसकी राष्ट्रीय टीम में वेस्ट इंडीज, भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी भी हैं। इससे पहले, महाराष्ट्र के सुशील नादकर्णी और हैदराबाद के इब्राहिम खलील भी अमेरिका के लिए कप्तानी कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Aus vs SA 1st ODI Highlights: साउथ अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को दी 6 विकेट से मात
2 दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्‍तान बोले- वर्ल्‍ड क्रिकेट के सुपरस्‍टार हैं विराट कोहली
जस्‍ट नाउ
X