ताज़ा खबर
 

रेलवे ने निकाली 1 लाख नौकरियां, आ गए 2 करोड़ से ज्यादा एप्लीकेशन, बचा है अभी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का टाइम

रेलवे के एक लाख रिक्त पदों के लिए 2 करोड़ से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं और अभी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए पांच दिन बचे हैं। इंडियन एक्सप्रेस ने रेलवे मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से लिखा है कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख बची होने के कारण आवेदनों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

रेलवे के एक लाख रिक्त पदों के लिए 2 करोड़ से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं और अभी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए पांच दिन बचे हैं। इंडियन एक्सप्रेस ने रेलवे मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से लिखा है कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख बची होने के कारण आवेदनों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे ग्रुप सी और ग्रुप डी में 90,000 भर्तियां कर रहा है और रेलवे सुरक्षा बल के लिए 9,500 भर्तियां की जाएंगी। अधिकारी ने बताया कि सहायक लोको पायलट और तकनीकी पदों के लिए 50 लाख से ज्यादा ऑनलाइन आवेदन भरे जा चुके हैं। 26,502 लोको पायलट और तकनीकी पद खाली हैं और ग्रुप डी में 62,907 भर्तियां होनी हैं। आयोजित होने वाली परीक्षा की विशालता को ध्यान में रखते हुए, परीक्षा पूरी होने और परिणाम घोषित होने के बाद पारदर्शिता बनाए रखने के लिए उम्मीदवारों को उनके जवाबों की जांच के लिए एक विंडो दी जाएगी। पूरे भारत में उम्मीदवारों के लिए अवसर सुनिश्चित करने के लिए 15 विभिन्न भाषाओं में प्रश्न पत्र प्रदान किए जाएंगे जिनमें हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, बंगाली, पंजाबी, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, असमिया, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, तमिल और तेलगू शामिल हैं।

रेलवे की इन नौकरियों के लिए सामान्य श्रेणी को 500 रुपये और आरक्षित श्रेणी को 250 रुपये परीक्षा शुल्क देनी होगी, पहले सामान्य श्रेणी से 100 रुपये फीस ली जाती थी और आरक्षित श्रेणी के लिए यह नि:शुल्क होती थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बढ़ी हुई फीस को परीक्षा के बाद यह रिफंड करने का भी एलान किया है। रिफंड के लिए उम्मीदवारों को बैंक खाते की ऑनलाइन जानकारी देनी होगी। आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को पूरी फीस लौटाने की बात कही गई है और अनारक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को 500 रुपये में 400 रुपये वापस मिलेंगे। ग्रुप डी के उम्मीदवारों के लिए उम्र की अधिकतम सीमा 2 वर्ष बढ़ाई गई है जो कि 28 से 30 वर्ष कर दी गई है।

लोको पायलट और तकनीकी पदों के लिए उम्मीदवारों की अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष रखी गई है। लेवल 1 के लिए यह बढ़ाकर 31 से 33 वर्ष कर दी गई है। रेलवे की इन भर्तियों में बिना आईटीआई धारक भी आवेदन कर सकते हैं, उनका 10वीं पास होना जरूरी है। नए नियम के मुताबिक परीक्षा में 10वीं पास या आईटीआई या नेशनल अप्रेंटिस सर्टिफिकेट वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। सरकार ने ग्रुप डी की भर्तियों के लिए पिछली 22 फरवरी को आईटीआई की अनिवार्यता को खत्म कर दिया था, उसके लिए 10वीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा बेहद छोटे कद के उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं। एसिड हमले के पीड़ित, कुष्ठरोग बीमारी से ग्रस्त रहे और मांसपेशी के विकास न होने की समस्या से जूझ रहे लोग भी आवेदन कर सकते हैं। दिव्यांग व्यक्तियों के लिए भी आवेदन करने काविकल्प रखा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App