ताज़ा खबर
 

घर की छत पर बनाया था एयरक्राफ्ट! 6 साल बाद मिली उड़ाने की इजाजत, जानें अमोल यादव के संघर्ष की कहानी

अमोल यादव जेट एयरवेज में डिप्टी चीफ पायलट हैं। एयरक्राफ्ट टीएसी-003 उनकी कड़ी मेहनत का सुबूत है। लंबे समय के बाद उनके विमान को आखिरकार डीजीसीए से सर्टिफिकेट मिल चुका है।

कैप्टन अमोल यादव (Photo Source: Facebook)

मुंबई के रहने वाले कैप्टन अमोल यादव अपने कारनामे से आज शोहरत की बुलंदियों पर पहुंच गए हैं। लंबे संघर्ष के बाद उनकी कड़ी मेहनत रंग लाई है। 17 नवंबर को डीजीसीए ने कैप्टन यादव द्वारा तैयार किए गए विमान को रजिस्टर कर लिया है। सोमवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उन्हें डीजीसीए का सर्टिफिकेट सौंपा। अमोल यादव जेट एयरवेज में डिप्टी चीफ पायलट हैं और उनका पेशा उनका जुनून है। इस बात को उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से साबित कर दिया है। दरअसल अमोल अपने घर की छत पर एक 6 सीटर विमान बनाने के बाद सुर्खियों में आए हैं। एयरक्राफ्ट टीएसी-003 उनकी कड़ी मेहनत का सुबूत है। विमान को अब डीजीसीए से सर्टिफिकेट भी मिल चुका है।

कैप्टन अमोल ने अकेले काम करते हुए यह 6 सीट वाला एयरक्राफ्ट बनाया है। अमोल को अपना कारनामा पूरा करने में कई मुश्किलों को सामना करना पड़ा था। दैनिक भास्कर से बातचीत में अमोल यादव ने अपनी मंजिल की राह में रोड़ा बने आर्थिक संकट के बारे में भी बताया। अमोल ने कहा, “उनकी मां ने मंगलसूत्र बेचकर उन्हें पैसे दिए थे और भाई ने अपना घर भी गिरवी रख दिया था।”  आर्थिक संकट उनके लिए एक बड़ी चुनौती थी। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक कैप्टन यादव ने अपना घर बेचकर, विमान में 4 करोड़ रुपये की लागत लगाई थी। साल 2016 में उनके इस विमान को मेक इन इंडिया स्कीम की एग्जिबिशन में जगह मिली गया थी।

वैसे तो यह एयरक्राफ्ट 2011 में ही तैयार हो गया था, लेकिन सर्टिफिकेट मिलने में इसे 6 साल का समय लग गया। डीजीसीए से सर्टिफिकेट मिलने के बाद अमोल अब इस विमान को उड़ा सकते हैं। सर्टिफिकेट मिलने के बाद माना जा रहा है अमोल दूसरे शख्स होंगे जो अपना बनाया हुआ विमान उड़ा सकेंगे। कहा जाता है 1895 में मुंबई के शिवकर तलपड़े ने चौपाटी पर अपना पहला प्लेन उड़ाया था। इसके 122 साल बाद अमोल दूसरे शख्स माने जा रहे हैं जो खुद का बनाया हुआ विमान उड़ाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 डाक विभाग में 8वीं पास के लिए वैकेंसी, यहां जाने पूरी डीटेल्स और जल्द करें आवेदन
2 RBI Assistant Prelims 2017: परीक्षा के जवाबों में समानता पाए जाने पर रद्द हो जाएगा पेपर! यहां जानें RBI के महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश
3 IBPS PO Exam 2017: परीक्षा भवन में ये सब सामान वर्जित, एग्जाम से पहले जानिए सभी जरूरी बातें
ये पढ़ा क्या?
X