ताज़ा खबर
 

यहां रहते हैं जिंदा भूत, इन्हें देखते ही डरकर छिप जाते हैं लोग

इस देश में रहने वाले इगुनगुन समुदाय के लोगों को दूसरे समुदाय के लोग जिंदा भूत कहकर पुकारते हैं।

इसके पीछे की वजह बेहद दिलचस्प है।

आज के दौर में अगर कोई आपसे ये कहे कि काला जादू होता है तो शायद आप शॉक्‍ड हो जाएंगे। लेकिन यहां हम अफ्रीकी काले जादू वूडू की बात कर रहे हैं। ऐसा माना जाता है कि इसकी शुरुआत पश्चिम अफ्रीका में स्थित एक छोटे से देश बेनिन से शुरू हुई थी। इस देश में रहने वाले इगुनगुन समुदाय के लोगों को दूसरे समुदाय के लोग जिंदा भूत कहकर पुकारते हैं। इसके पीछे की वजह बेहद दिलचस्प है। दरअसल, यहां के लोगों का मानना है कि इन इगुनगुन समुदाय के लोगों पर उनके मृत पूर्वज आते हैं और इनके माध्यम से अपनी राय देते हैं। बताया जाता है कि अगर ये जिंदा भूत किसी व्यक्ति को छू लें तो उसकी मौत वहीं हो जाती है। यही वजह है कि इगुनगुन समुदाय के लोगों को देखकर सामान्य लोग डरकर छिप जाते हैं। इगुनगुन समुदाय के लोग हमेशा अपना चेहरा एक मुखौटे के पीछे छुपाकर रखते हैं जो दिखने में बेहद अजीब होता है।

गांव के लोग आमतौर पर इगुनगुन समुदाय के लोगों को तब बुलाती है जब उन्हें कोई विवाद सुलझाना होता है। इन लोगों को गांव के विवादों में फैसला सुनाने का महत्वपूर्ण काम दिया जाता है। माना जाता है कि इन पर मृत पूर्वज आते हैं और इनके माध्यम से अपनी राय देते हैं। इसलिए इगुनगुन का फैसला ईश्वर का संदेश और अंतिम माना जाता है।

इस समुदाय के लोगों की भाषा भी बिल्कुल अलग होती है जो हर किसी के समझ में नहीं आती है। जब ये फैसला सुनाते हैं तो उस समय ड्रम बजाते हैं। माना जाता है कि ड्रमिंग और डांस के माध्यम से वो पूर्वजों की आत्माओं के पास जाकर फैसला लेकर आते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App