ताज़ा खबर
 

जेल में लखवी की मौज, इंटरनेट व मोबाइल करता है उपयोग

मुंबई आतंकवादी हमले के साजिशकर्ता लश्कर ए तैयबा कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी जेल में शानदार जिंदगी जी रहा है। वह वहां इंटरनेट, मोबाइल फोन जैसी सुविधाओं का उपयोग करता है। आगंतुक उससे मिलने आते हैं जबकि पाकिस्तान कहता रहा है कि वह आतंकवादियों पर कार्रवाई कर रहा है। बीबीसी ऊर्दू सेवा ने खबर दी है कि […]

Author March 2, 2015 12:16 PM
लखवी को नवंबर, 2008 में मुंबई में हुए आतंकवादी हमले में आरोपित किया गया है। इस हमले में 166 लोगों की जान चली गई थी। (फोटो: रॉयटर्स)

मुंबई आतंकवादी हमले के साजिशकर्ता लश्कर ए तैयबा कमांडर जकी-उर-रहमान लखवी जेल में शानदार जिंदगी जी रहा है। वह वहां इंटरनेट, मोबाइल फोन जैसी सुविधाओं का उपयोग करता है। आगंतुक उससे मिलने आते हैं जबकि पाकिस्तान कहता रहा है कि वह आतंकवादियों पर कार्रवाई कर रहा है।

बीबीसी ऊर्दू सेवा ने खबर दी है कि पाकिस्तान के कुख्यात कैदियों में एक 55 वर्षीय लखवी रावलपिंडी में अति सुरक्षा वाली विशाल अडियाला जेल में रह रहा है। लखवी और छह अन्य अब्दुल वाजिद, मजहर इकबाल, हमाद अमीन सादिक, शाहिद जमील रियाज, जामिल अहमद और यूनुस अंजुम को नवंबर, 2008 में मुंबई में हुए आतंकवादी हमले में आरोपित किया गया है। इस हमले में 166 लोगों की जान चली गई थी।

बीबीसी सेवा के मुताबिक ऐसे गंभीर आरोपों के बाद भी लखवी और उसके सह-साजिशकर्ताओं को जेलर के कार्यालय के समीप ही कई कमरे मिले हुए हैं। उसने जेल अधिकारियों के हवाले से कहा, ‘उन्हें जेलर से टेलीविजन, मोबाइल फोन रखने और इंटरनेट सेवा का इस्तेमाल करने की इजाजत मिली हुई है और दर्जनों आंगुतक उनसे मिलने आ सकते हैंं।’

एक जेल अधिकारी ने कहा कि लखवी दिन रात कभी भी कितने भी आंगुतकों से मिल सकता है। किसी विशेष इजाजत की जरूरत नहीं होती है और उसके आंगुतकों को जेल अधिकारियों के सामने अपनी पहचान भी नहीं बतानी होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App