ताज़ा खबर
 

शी चिनफिंग की यात्रा से भारत-चीन संबंध के बीच के कुछ संदेह हुए दूर

बीजिंग। चीन ने आज कहा कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की भारत यात्रा से दोनों देशों के बीच के ‘कुछ संदेह’ दूर हुए और द्विपक्षीय संबंध ‘नए दौर’ में पहुंचा। वार्ता के दौरान दोनों पक्ष सीमा विवाद को मित्रवत सहयोग के साथ राजनीतिक रूप से सुलझाने के बारे में एक ‘महत्वपूर्ण सहमति’ बनी। चीन के विदेश […]

Author Updated: September 23, 2014 9:15 AM

बीजिंग। चीन ने आज कहा कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की भारत यात्रा से दोनों देशों के बीच के ‘कुछ संदेह’ दूर हुए और द्विपक्षीय संबंध ‘नए दौर’ में पहुंचा। वार्ता के दौरान दोनों पक्ष सीमा विवाद को मित्रवत सहयोग के साथ राजनीतिक रूप से सुलझाने के बारे में एक ‘महत्वपूर्ण सहमति’ बनी।

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुन्यिंग ने यहां संवाददाताओं से कहा ‘‘हम कह सकते हैं कि राष्ट्रपति शी की भारत यात्रा से दोनों देशों के बीच कुछ संदेह दूर हुए और द्विपक्षीय संबंधों का नया दौर शुरू हुआ।’’ उन्होंने यह टिप्पणी एक सवाल के जवाब में की जिसमें उनसे लद्दाख के चुमार क्षेत्र में दोनों सेनाओं के बीच सीमा विवाद और इसका शी की हाल में संपन्न यात्रा पर पड़ने वाले नकारात्मक असर के बारे में पूछा गया था।
हुआ ने कहा ‘‘जहां तक सीमा विवाद पर आपका यह सवाल है कि क्या इससे इससे राष्ट्रपति शी की यात्रा पर असर होगा या नहीं, मैं कहना चाहती हूं कि संदेह बिल्कुल अनावश्यक है क्योंकि दोनों नेताओं के बीच आपसी सहयोग से राजनीतिक तौर पर सीमा विवाद सलुझने के लिए महत्वपूर्ण सहमति बनी है।’’
उन्होंने कहा ‘‘हमारे पास सीमा विवाद के लिए प्रभावी प्रणाली है। प्रभावी संवाद के जरिए हम कुछ विवादों को सुलझा सकते हैं और नियंत्रित कर सकते हैं।’’
हुआ ने कहा ‘‘इसलिए हमारा मानना है कि चीन और भारत में शांति बरकरार रखने और सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बरकरार रखने की पर्याप्त क्षमता एवं विश्वास है ओर हमें इसमें भरोसा है। हमारा मानना है कि भारत-चीन संबंध और पूरे क्षेत्र के ठोस विकास के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है।’’
उन्होंने कहा ‘‘ पक्का निर्णय होने तक सीमा पर शांति और स्थिरता बरकरार रहनी चाहिए।’’

शी की तीन दिवसीय भारत यात्रा का जिक्र करते हुए हुआ ने कहा कि चीन के राष्ट्रपति की भारत की राजकीय यात्रा सफल रही और भारतीय जनता एवं सरकार ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया।

Next Stories
1 नरेंद्र मोदी के स्वागत के लिए संरा व वाइट हाउस के बाहर बड़ी रैलियों की तैयारी
2 कराची में इमरान खान ने की बड़ी रैली, दोहराई नवाज शरीफ के इस्तीफे की मांग
3 सत्ता समझौते के साथ ही अफगानिस्तान में संकट खत्म: अशरफ गनी बने राष्ट्रपति
ये पढ़ा क्या?
X