ताज़ा खबर
 

दुबई पुलिस के साथ जल्द ही पैटरोलिंग करेगा दुनिया का पहला ऑपरेशनल रोबोट, लोगों की भावनाओं की आसानी से कर सकता है पहचान

रॉबोट में भावों को पहचानने वाली एक मशीन लगाई गई है जिसकी मदद से रोबॉट बड़ी ही आसानी से व्यक्ति के खुश और दुख वाले भाव को पहचान सकता है।

यह लोगों के साथ हाथ मिलाना और सैन्य सेल्यूट करना भी जानता है। (Photo Source: Video Grab)

दुनिया का पहला ऑपरेशनल रोबोकॉप बहुत ही जल्द दुबई की सड़कों पर दुबई पुलिस के साथ पैटरोलिंग करता हुआ दिखाई देगा। इसकी जानकारी दुबई में हुए गुल्फ इन्फॉरेमेशन सिक्यूरिटी एक्सपो एंड कॉनफ्रेंस में दी गई। अधिकारियों का दावा है कि साल 2030 तक करीब 25 प्रतिशत दुबई पुलिस रोबोकॉप पर निर्भर होगी। रोबोकॉप केवल पैटरोलिंग ही नहीं करेंगे बल्कि प्राशसनिक कार्य भी करेंगे। बुद्धिमत्ता से लैस इन रोबोट की लंबाई 5.5 फीट है और इसका वजन 100 किलोग्राम है। यह रोबोट बैटरी पर चलते हैं जो कि करीब आठ घंटे तक चल सकती है। इन रोबोकॉप को मॉल और पर्यटन स्थलों पर तैनात किया जाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रोबोट में ऐसा सॉफ्टवेयर डाला गया है, जिससे कि वह अपराधी को पहचान कर उसे पकड़कर पुलिस की मदद कर सके। रोबोट के अंदर एक टेबलेट सेट किया गया है, जिसकी मदद से लोग अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं और लोगों से फाइन भी वसूला जा सकता है। इन रोबोट में भावों को पहचानने वाली एक मशीन लगाई गई है जिसकी मदद से रोबोट बड़ी ही आसानी से व्यक्ति के खुश और दुख वाले भाव को पहचान सकता है। इतना ही नहीं यह भाव की पहचान करने के बाद खुद में भी वैसे ही बदलाव लाने की क्षमता रखता है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह लोगों के साथ हाथ मिलाना और सैन्य सेल्यूट करना भी जानता है।

यह रोबोट दो तरह की भाषा जानता है। यह बहुत ही आसानी से अरबी और अंग्रेजी भाषा में बात कर सकता है। इतना ही नहीं इसके निर्माणकर्ता बहुत ही जल्द इसके सॉफ्टवेयर में रुसी, चीनी, फ्रेंच और स्पेनिश भाषा भी डालने वाले हैं। दुबई में हर जगह से लोग आते हैं इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए इन भाषाओं को रोबोट के सॉफ्टवेयर में डाला जा रहा है। इस रोबोट का निर्माण करने वाले पीएल रोबोटिक्स का कहना है कि रोबोट्स को पुलिस महकमे में लाने का यह मतलब नहीं है कि हम अपने पुलिसकर्मियों को नौकरी से निकाल रहे हैं। इससे केवल पुलिस को अपराधियों को पकड़ने और उनतक पहुंचने में बहुत मदद मिलेगी। वहीं दुबई पुलिस का कहना है कि वह दुनिया का सबसे बड़ा रोबोट बनाने की योजना बना रहे हैं, जो कि एक घंटे में 80 किलोमीटर की रफ्तार से दौड़ सके।

देखिए वीडियो - नौशेरा में भारतीय सेना ने उड़ाई LOC पर पाक सेना की चौकिया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App