scorecardresearch

Monkeypox Risk: महिला या पुरुष अगर कई पाटर्नर के साथ शरीरिक संबंध बनाएं तो क्‍या बढ़ सकता है मंकीपॉक्‍स का खतरा, जानें इस सवाल का जवाब

शनिवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने इस प्रकोप को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया था।

Monkeypox Risk: महिला या पुरुष अगर कई पाटर्नर के साथ शरीरिक संबंध बनाएं तो क्‍या बढ़ सकता है मंकीपॉक्‍स का खतरा, जानें इस सवाल का जवाब
भी तक यह साफ हो सका है कि कोई एसिम्प्टोमैटिक व्यक्ति वायरस को प्रसारित कर सकता है या नहीं। (File Photo)

दुनिया भर में मंकीपॉक्स (Monkeypox) के बढ़ते केसों और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से इसे वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल (Global Health Emergency) घोषित करने के बाद लोगों की चिंताएं भी बढ़ती जा रही हैं। हालांकि स्वास्थ्य विशेषज्ञों और शोधकर्ताओं ने लोगों से इसको लेकर सतर्कता बरतने और इस प्रकोप को वर्जित नहीं मानने की अपील की है, लेकिन अभी तक यह साफ हो सका है कि कोई एसिम्प्टोमैटिक व्यक्ति वायरस को फैला सकता है या नहीं।

शनिवार को इस प्रकोप को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित करने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेबियस ने कहा, “फिलहाल, यह एक ऐसा प्रकोप है जो उन पुरुषों के बीच केंद्रित है, जिन्होंने पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाए। खासकर उन लोगों के साथ जिनके कई यौन साथी हैं। इसका मतलब है कि यह एक ऐसा प्रकोप है जिसे सही समूहों में सही रणनीतियों के साथ रोका जा सकता है।”

स्पर्शोन्मुख वाहक (Asymptomatic Carriers) के कोई ज्ञात मामले नहीं हैं, इसलिए अन्य संक्रमणों जैसे कि कोविड -19 या सार्स वायरस (Covid-19 or SARS virus) की तुलना में वायरस के आयात को रोकना आसान है। वर्तमान में, मंकीपॉक्स के पीसीआर-आधारित नैदानिक परीक्षण (PCR-based diagnostic tests) भारत में व्यावसायिक रूप से उपलब्ध नहीं हैं। नानावती अस्पताल के आंतरिक चिकित्सा और संक्रामक रोगों के वरिष्ठ सलाहकार डॉ हर्षद लिमये कहते हैं, इसलिए क्लीनिकल ​​निदान (Clinical diagnosis) एक प्रकोप को रोकने के लिए महत्वपूर्ण होगा।

उपलब्ध साक्ष्यों के अनुसार, वायरस त्वचा से त्वचा के संपर्क और दूषित शारीरिक तरल पदार्थ जैसे लार, वीर्य और श्वसन बूंदों और संक्रमणों के माध्यम से दाने और फफोले के माध्यम से फैलता है। इस प्रकार, संक्रमण का प्रसार परिवारों और सामाजिक नेटवर्क तक सीमित है जहां निकट संपर्क आम है।

मंकीपॉक्स के हालिया प्रकोप की निगरानी में एक असामान्य संचरण पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुष (एमएसएम) मोड का खुलासा हुआ है। हालांकि, यह समझना महत्वपूर्ण है कि मंकीपॉक्स मुख्य रूप से यौन संचारित रोग (एसटीआई) नहीं है।

मंकीपॉक्स एक वायरल ज़ूनोसिस (जानवरों से मनुष्यों में प्रसारित होने वाला वायरस) है, जिसमें चेचक के रोगियों में अतीत में देखे गए लक्षणों के समान लक्षण होते हैं, हालांकि यह चिकित्सकीय रूप से कम गंभीर है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट