ताज़ा खबर
 

अमेरिकी प्लेन में कंफर्म थी एशियन पैसेंजर की सीट, लेकिन विमान कर्मचारियों ने धक्के देकर यात्री को कर दिया बाहर

यूनाइटेड एयरलाइंस ने इस घटना के लिए खेद जताने की बजाए पैसेंजर के व्यवहार को ही जिम्मेदार ठहराया है।

यूनाइटेड एयरलाइंस के स्टाफ ने रविवार को एक पैसेंजर को प्लेन से बाहर फेंक दिया। (Source-Reuters)

अमेरिका में यूनाइटेड एयरलाइंस ने एक पैसेंजर के साथ बेहूदा हरकत की है। एयरलाइंस के स्टाफ ने एशियाई मूल के एक पैसेंजर को ना सिर्फ उसके सीट से धक्का देकर बाहर कर दिया, बल्कि उसके साथ मारपीट भी की। इस पैसेंजर के पास यूनाइटेड एयरलाइंस से यात्रा करने का वैध टिकट भी था। लेकिन एयरलाइंस ने पैसेंजर को कहा कि ये फ्लाइट ओवरबुक हो चुकी है यानी कि प्लेन की क्षमता से ज्यादा टिकट बेच दिये गये हैं लिहाजा यह एयरलाइंस उसे नहीं ले जा सकती है। यूनाइटेड फ्लाइट संख्या 3411 शिकागो से लाउजविले, केंचुकी जा रही थी। इसी दौरान इस प्लेन में घटना हुई। पूरी घटना का वीडियो साथ में सफर कर रहे एक दूसरे शख्स ने सोशल मीडिया पर जारी किया है। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एयरलाइंस के सिक्युरिटी स्टाफ इस पैसेंजर को पीठ के बल प्लेन से बाहर घसीटते हुए ले जा रहे हैं, उसके मुंह से खून निकल रहा है, उसका चश्मा नीचे गिरा जा रहा है और वो जोर जोर से चिल्ला रहा है। एयरलाइंस के इस व्यवहार से यह पैसेंजर इतना डर गया था कि कुछ देर बाद केबिन के पास आकर चिल्लाने लगा-ले लो मेरी जान।

देखिए संबंधित वीडियो

(Source-Twitter/Jayse D Anspach)

जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया गया, लोगों ने यूनाइटेड एयरलाइंस के जमकर भड़ास निकाली और एयरलाइंस के व्यवहार को गैर जिम्मेदराना करार दिया। इस घटना में शामिल एक सुरक्षा स्टाफ को छुट्टी पर भेज दिया गया है, और शिकागो के उड्डयन विभाग ने एयरलाइंस कंपनी के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। लेकिन यूनाइटेड एयरलाइंस ने इस घटना के लिए खेद जताने की बजाए पैसेंजर के व्यवहार को ही जिम्मेदार ठहराया है। यूनाइटेड के सीईओ ऑस्कर मुनोज ने अपने कर्मचारियों को पत्र लिखकर बताया है कि यात्री ने सुरक्षा अधिकारी की बात को मानने से इनकार कर दिया। एयरलाइंस का कहना था कि प्लेन में सीट नहीं है इसलिए वो यात्रा नहीं कर सकता है, हालांकि एयरलाइंस ने इसके एवज में उसे 1000 डॉलर हर्जाना देने का भी वादा किया था। लेकिन यात्री का कहना था कि वो पेशे से एक डॉक्टर है और उसे अपने मरीज को देखने के लिए लाउजविले जाना था। लेकिन एयरलाइंस के स्टाफ ने पैसेंजर के इस तर्क को नहीं माना। और उसे जबरन नीचे उतार दिया।

इस वीडियो को देखने के बाद सोशल मीडिया में लोगों में जबर्दस्त गुस्सा दिखा। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, एयरलाइंस ने एक सीनियर सिटीजन को उसके अपने ही सीट से बेदखल कर दिया, ताकि उसका अपना आदमी जा सके। वीडियो जारी करने वाले पैसेंजर ने लिखा, ‘ कोई अपना सीट छोड़ने के लिए तैयार नहीं हुआ, इसलिए यूनाइटेड ने एक एशियन पैसेंजर को चुना और उसे बेदखल कर दिया।

पटना: इस्कॉन मंदिर के तीन साधुओं पर दिव्यांग बच्चे के यौन शोषण का आरोप, मंत्री के पास पहुंचा मामला फिर भी नहीं दर्ज हुई FIR

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App