ताज़ा खबर
 

एक whatsapp मैसेज की मदद से बची इस महिला की जिंदगी, वेश्यावृत्ति के बाजार में बेचने का था प्लान

दुबई के एक बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। इसमें दुबई पुलिस बंग्लादेश मूल के एक गार्ड के अलावा दो और लोगों को भी गिरफ्तार किया है।

प्रतीकात्मक फोटो

दुबई में एक बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। वेश्यावृत्ति के काले कारोबार में धकेलने के लिए काजाकिस्तान से लड़कियों को लाया गया था। लाई गए लड़कियों में से एक ने अपने देश में अपने भाई के पास व्हाट्स एप मैसेज कर दिया जिसकी सूचना दुबई पुलिस को दी गई। जिसके बाद दुबई पुलिस ने बंग्लादेश मूल के एक गार्ड के अलावा दो और लोगों को भी गिरफ्तार किया है।

कई दिनों से चल रहा था काला कारोबार- पुलिस पूछताछ में बंग्लादेश मूल के एक गार्ड ने बताया कि वो एयरपोर्ट से लड़कियों को फ्लैट में लाता और फिर इन्हें जिस्मफरोशी के धंधे में धकेल देता था।

पुलिस को कई महिनों से थी तलाश- दुबई पुलिस कई महिनों से गिरोह की तलाश कर रही थी। पिछले साल 19 जुलाई को पुलिस में शिकायत दर्ज की गई थी। लेकिन पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लग रहा था। पुलिस के अब भी कई और आरोपियों की तलाश है जो पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

भाई ने की मदद- पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उन्हें काम देने का झांसा देकर यहां लाया गया था। दुबई एयरपोर्ट पर आने के बाद उसे और चार लड़कियों को फ्लैटपर ले जाया गया। जहां एक आदमी को कहा गया कि इनमें से एक को ले जाओ। ये सुनकर पीड़ित महिला वहां रोने लग गई और अपने भाई को मैसेज कर दिया। जिसके बाद दुबई पुलिस से संपर्क किया गया और आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ गए।

दुबई पुलिस हुई हैरान- पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब वो फ्लैट पर पहुंचे तो देखकर हैरान हो गए। फ्लैट में दो लोग दिखे। पूछने पर उन्होंने बताया कि वो कजाकिस्तान की कांसुलेट के लिए काम करते हैं लेकिन तभी दो लड़कियो ने कहा कि उन्हें बंधक बनाकर रखा गया है।

प्रत्युषा बैनर्जी के वकील का आरोप- 'राहुल ने प्रत्युषा को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया था’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App