ताज़ा खबर
 

PM हसीना ने कहा- ये कैसे मुसलमान हैं जो रमजान में बेगुनाहों की जान ले रहे हैं

ढाका में होले आर्टिसन बेकरी कैफे में सात हमलावरों ने हमला कर लोगों को बंधक बना लिया था।

Author Updated: July 2, 2016 4:17 PM
बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना। (फाइल फोटो)

बांग्‍लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने ढाका में होले आर्टिसन बेकरी कैफे में हमले की निंदा की है। उन्‍होंने रैपिड एक्‍शन बटालियन ओर रेवी कमांडो की तारीफ करते हुए कहा कि उन्‍होंने साहस और असाधारण प्रयास करते हुए इस स्थिति को तुरंत खत्‍म कर दिया। हसीना ने कहा, ”ये किस तरह के मुसलमान है जिन्‍होंने लोगों को मारने के लिए अजान की आवाज को भी भुला दिया। ये लोग रमजान के महीने में बेगुनाहों की जान ले रहे हैं।”

Dhaka: चश्‍मदीद बोले- अल्‍लाह हू अकबर के नारे लगा घुसे हमलावर, रातभर चली गोलियां

उन्‍होंने कहा, ”हमने शीघ्रता से मौके की नजाकत का अध्‍ययन किया और 10 घंटे के अंदर इस संकट को समाप्‍त कर सकते थे। मुझे बहुत खुशी है कि हमने 13 लोगों की जान बचाई लेकिन रात में शहीद हुए दो पुलिसकर्मियों और लोगों के नुकसान के लिए दुखी हूं। आतंकवाद का कोई धर्म नहीं है। मुझे बांग्‍लादेश के लोगों की खुशी की प्रार्थना और उम्‍मीद करती हूं। यदि देश के लोग जागरूक होंगे तो हम आगे इस तरह के हमलों को रोक सकेंगे। हम बांग्‍लादेश को आतंकियों का स्‍वर्ग नहीं बनने देंगे।”

ढाका में आतंकी हमला: ISIS को आगे कर ISI चल रहा चाल, जमात कर रहा मदद

पीएम हसीना ने स्‍थानीय टीवी चैनलों की आलोचना करते हुए कहा कि बचाव कार्य के लाइव टेलीकास्‍ट के चलते परेशानी हुर्इ। उन्‍होंने कहा, ”हम लगातार मीडिया से रिक्‍वेस्‍ट करते रहे कि इलाके को सुरक्षित किया जा रहा है और वे लाइव टेलीकास्‍ट न करें।” हसीना ने युवाओं से कहा कि वे जागरूक रहें और कट्टरपंथियों के झांसे में ना आएं।

12 घंटे से ज्‍यादा चले ऑपरेशन के बाद ढाका में बंधक संकट खत्‍म, 6 आतंकी मारे गए

गौरतलब है कि शुक्रवार रात को सात हमलावरों ने गुलशन इलाके में स्थित‍ रेस्‍टोरेंट पर हमला कर लोगों को बंधक बना लिया था। 20 लोग उनके कब्‍जे में थे। बंधकों में विदेशी नागरिक भी थे। शनिवार सुबह बांग्‍लादेशी सुरक्षा बलों ने कार्रवाई करते हुए छह आतंकियों को मार गिराया।

बांग्लादेश: हमलावरों का हिंदू पुजारी पर हमला, चाकू मार कर किया घायल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X