ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान: पोलिंग अफसर का दावा, वोटों की हेराफेरी के लिए सुरक्षाबलों ने किया था अगवा

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक मतदान अधिकारी ने दावा किया कि धार्मिक गठबंधन मुत्ताहिदा मजलिस अमल के उम्मीदवार के पक्ष में जबरदस्ती फर्जी वोट डलवाने के लिए सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया था।

Author August 10, 2018 1:21 PM
पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक मतदान अधिकारी ने दावा किया कि धार्मिक गठबंधन मुत्ताहिदा मजलिस अमल के उम्मीदवार के पक्ष में जबरदस्ती फर्जी वोट डलवाने के लिए सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया था। (photo-Reuters)

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक मतदान अधिकारी ने दावा किया कि धार्मिक गठबंधन मुत्ताहिदा मजलिस अमल के उम्मीदवार के पक्ष में जबरदस्ती फर्जी वोट डलवाने के लिए सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया था। पाकिस्तान निर्वाचन आयोग ने अपनी वेबसाइट पर मतदान अधिकारी की चिठ्ठी अपलोड की है जिसमें वशूक जिले के मतदान केंद्र संख्या 45 के मतदान अधिकारी ने यह दावा किया है। बलूचिस्तान प्रांत के पीबी-41 विधानसभा सीट के चुनाव अधिकारी ने इस पत्र को सत्यापित किया है और इस पर उनका मुहर भी लगा है। मतदान अधिकारी ने इस पत्र में दावा किया है कि सुरक्षा बलों ने उनका अपहरण कर लिया। बाद में एमएमए के पक्ष में फर्जी मतों की संख्या के साथ फार्म 45 जमा करने को कहा गया।

इस मामले में कल क्वेटा में आयोग ने सुनवाई की थी जहां प्रांत के चुनाव अधिकारी ने बताया कि नकाबपोश लोगों ने मतदान के दिन दो मतदान अधिकारियों का अपहरण कर लिया था और इसी वजह से इन दोनों मतदान केंद्रों के मतों को पीबी-41 सीट के मतों की गिनती के दौरान शामिल नहीं किया गया था। इस सीट से चुनाव हारने वाले बलूचिस्तान अवामी पार्टी के उम्मीदवार मीर मुजीबुर रहमान मोहम्मद हसानी ने आयोग का ध्यान इस तरफ आर्किषत कराया कि मतदान केंद्र संख्या 44 और 45 के परिणाम बलूचिस्तान विधानसभा सीट के पीबी-41 सीट के अंतिम परिणाम में शामिल नहीं थे। इसके बाद आयोग ने इस मसले का संज्ञान लिया था। गौरतलब है कि पाकिस्तान की इमरान खान वाली सरकार को लेकर पिछले दिनों वोटों में हेरफेरी को लेकर आरोप लगाए गए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तान में कैद गजानंद 36 साल बाद देखेंगे आजाद भारत का जश्न, 13 अगस्त को होगी रिहाई
2 कैलिफोर्निया: पुलिस प्रमुख का बेटा समेत दो किशोर गिरफ्तार, बुजुर्ग पर हमला और लूटपाट का आरोप
3 थाईलैंड: कोर्ट ने बौद्ध भिक्षु को सुनाई 114 साल की जेल, सालभर पहले अमेरिका से हुआ था प्रत्यर्पण
IPL 2020 LIVE
X