ताज़ा खबर
 

तिरंगा फहराने वाले कोहली के पाकिस्‍तानी फैन के खिलाफ नहीं मिले सबूत, पर कोर्ट ने नहीं दी बेल

22 साल के उमर दराज ने घर की छत पर भारतीय झंडा फहराया था।

Author लाहौर | February 19, 2016 3:43 PM
आरोपी युवक के वकील ने कहा है कि वे कोर्ट के फैसले को ऊपरी अदालत में चुनौती देंगे।

पुलिस की ओर से क्‍लीन‍टि दिए जाने के बावजूद पाकिस्‍तानी कोर्ट ने भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली के उस फैन को जमानत देने से इनकार कर दिया है, जिसे देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 22 साल के उमर दराज ने घर की छत पर भारतीय झंडा फहराया था। दिखने में कोहली जैसे उमर ने पंजाब प्रांत के ओकारा जिले स्‍थ‍ित अपने घर पर भारतीय झंडा फहराया था। इस मामले में उसे दस साल की सजा हो सकती है।

उमर के वकील आमिर भट्टी ने कोर्ट के फैसले पर निराशा जताई है। वकील ने कहा कि वे सेशंस कोर्ट के इस फैसले को ऊपरी अदालत ने चुनौती देंगे। वहीं, पुलिस अफसर अजीज चीमा के मुताबिक, उनकी रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे कोई सबूत नहीं मिले, जिससे साबित होता हो कि दराज ने राजद्रोह का कोई काम किया है। हालांकि, इसके बावजूद जज ने उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी।

दराज पेशे से दर्जी है। उसे उसके गांव से 25 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने उसके खिलाफ पाकिस्‍तान पीनल कोर्ट के सेक्‍शन 123 ए और शांति भंग की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया। सेक्‍शन 123 ए के तहत मामला साबित होने पर दस साल की कैद या जुर्माना या दोनों हो सकते हैं। दराज की ओर से पेश वकील ने कोर्ट में दलील दी कि उनका मुवक्‍क‍िल सिर्फ अपने मनपसंद क्रिकेटर के समर्थन में तिरंगा फहराया था। वकील के मुताबिक, दराज को यह नहीं पता था कि उसकी इस हरकत का यह अंजाम भी हो सकता है। वकील ने कहा, ”यह एक ऐसा मामला नहीं है, जब किसी ने दूसरे देश के प्रति प्रेम जाहिर करने के लिए झंडा फहराया। फुटबॉल वर्ल्‍ड कप के दौरान बहुत सारे लोग ब्राजील और अर्जेंटीना के झंडे फहराते हैं और इस बात का कोई बुरा नहीं मानता। यह भी कुछ ऐसी ही मामला है।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App