ताज़ा खबर
 

जल रहा वेनेजुएला, दर्जनों दुकानें लुटीं, कई मौतें, भारत की तरह वहां भी हुई है नोटबंदी

भारत के बाद वेनेजुएला में भी नोटबंदी की गई। लेकिन वहां के लोग भारत के लोगों की तरह शांत स्वभाव के नहीं निकले जिसकी वजह से वहां हिंसा हो रही है।

प्रदर्शन के दौरान एक शख्स ने 100-bolivar का नोट जला दिया। (Photo Source: REUTERS/File)

भारत के बाद वेनेजुएला में भी नोटबंदी की गई। लेकिन वहां के लोग भारत के लोगों की तरह शांत स्वभाव के नहीं निकले जिसकी वजह से वहां हिंसा हो रही है। कुछ खबरों के मुताबिक, उस हिंसा में अबतक दर्जनों दुकानें लूटी जा चुकी हैं और तीन लोगों की जान भी जा चुकी है। हालांकि, सरकार लोगों की जान जाने की बात पर अपनी मुहर नहीं लगा रही। वेनेजुएला में 100 बोलिवर के नोट को बंद करने का ऐलान किया गया था। लोगों को अपने पैसों को खपाने के लिए तीन दिन का वक्त दिया गया था। लेकिन जैसे-जैसे क्रिसमस और नया साल पास आ रहा है लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। लोग हंगामे और हिंसा पर उतार आए हैं।

भारत की तरह वहां का विपक्ष भी नोटबंदी के खिलाफ है। वहां के विपक्ष के नेताओं ने राष्ट्रपति निकोलस माडरू को धमकी दी है कि वह छह साल का अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएंगे जो कि 2019 में खत्म होना है। वहीं राष्ट्रपति ने हिंसा को गलत बताते हुए कहा कि नए नोट जल्द ही चलन में आ जाएंगे और लोगों को हिंसा करने की जरूरत नहीं है। वेनेजुएला के लोगों को भी ज्यादा से ज्यादा ई ट्रांजेक्शन करने को कहा जा रहा है। लेकिन वेनेजुएला के 40 प्रतिशत लोगों के पास बैंक में खाता ही नहीं है। वहां भी बैंक के बाहर लंबी लाइनें लगी हुई हैं और एटीएम में पैसा नहीं है।

वेनेजुएला की सरकरा ने कहा था कि वे लोग माफिया और कालाधन रखने वालों को कमजोर करने के लिए नोटबंदी का कदम उठा रहे हैं। वेनेजुएला इस वक्त 700 प्रतिशत मुद्रास्फिति से जूझ रहा है। इसके अलावा भारत में नोटबंदी के ऐलान के बाद ऑस्ट्रेलिया में नोटबंदी का ऐलान किया जा चुका है। ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने अपने यहां के सबसे बड़े नोट यानी 100 डॉलर के नोट को बंद करने का फैसला ले लिया है।

इस वक्त की ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

देखिए संबंधित वीडियो

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App