ताज़ा खबर
 

US: कैलिफोर्निया में एयरपोर्ट पर सिख छात्र को पगड़ी उतारने पर किया मजबूर

करनवीर सिंह अपनी पुस्तक ‘बुलिंग ऑफ सिख अमेरिकन चिल्ड्रन : थ्रू द आइज ऑफ ए सिख अमेरिकन हाई स्कूल स्टूडेंट’ के बारे में बात करने के लिए कैलिफोर्निया के बेकर्सफील्ड में वार्षिक सिख संगोष्ठी में गए थे।
Author सैन फ्रांसिको | April 20, 2016 14:59 pm
18 वर्षीय करनवीर सिंह पन्नू न्यू जर्सी के उच्च विद्यालय का छात्र है।

अमेरिकी राज्य कैलिफोर्निया में हवाई अड्डे के कर्मियों ने एक सिख अमेरिकी किशोर को उसकी पगड़ी उतारने को मजबूर कर दिया। इस किशोर ने समुदाय के बच्चों को धमकाये जाने की घटनाओं पर एक पुस्तक लिखी है। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

Read Also: अमेरिकी सेना का ऐतिहासिक फैसला, सिख सैनिक को ड्यूटी पर दाढ़ी रखने, पगड़ी पहनने की दी इजाजत

18 वर्षीय करनवीर सिंह पन्नू न्यू जर्सी के उच्च विद्यालय का छात्र है। वह अपनी पुस्तक ‘बुलिंग ऑफ सिख अमेरिकन चिल्ड्रन : थ्रू द आइज ऑफ ए सिख अमेरिकन हाई स्कूल स्टूडेंट’ के बारे में बात करने के लिए कैलिफोर्निया के बेकर्सफील्ड में वार्षिक सिख संगोष्ठी में गए थे, जहां उन्हें शिरकत कर रहे बच्चों को प्रेरणादायक वक्ता के तौर पर संबोधित करना था।

Read Also: अमेरिका में अपने धर्म के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए आगे आए सिख

एनबीसी.कॉम ने पन्नु के हवाले से लिखा है कि हवाई अड्डे पर मेटल डिटेक्टर से गुजरने के बाद मुझे मेरी पगड़ी की खुद तलाशी लेने और विस्फोटक सामग्री के लिए एक रसायनिक जांच के लिए कहा गया। यह परीक्षण सही होने के बाद, मुझे पूरी जांच के लिए द्वितीय जांच कक्ष ले जाया गया, और आगे की जांच के लिए मेरी पगड़ी हटाने को कहा गया। मैंने पहले मना किया, लेकिन जब उन्होंने मुझे धमकाया कि मैं उड़ान में नही जा सकता हूं तो मैं इस शर्त पर सहमत हो गया कि वे मुझे दोबारा से पगड़ी बांधने के लिए शीशा देंगे।

पन्नु ने साथ ही कहा कि इस घटना से वह शर्मिंदा हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.