scorecardresearch

US Visa: अमेरिका का विजिटर वीजा लेने के लिए लंबा वेटिंग टाइम, 2024 तक करना पड़ रहा इंतजार

अमेरिकी दूतावास की वेबसाइट के मुताबिक हैदराबाद से आवेदन करने वालों को विजिटर वीजा पाने के लिए 518 दिनों तक इंतजार करना होगा।

US Visa: अमेरिका का विजिटर वीजा लेने के लिए लंबा वेटिंग टाइम, 2024 तक करना पड़ रहा इंतजार
यूएस वीजा के लिए करना पड़ रहा लंबा इंतजार (file photo)

अमेरिका की यात्रा करने की योजना बना रहे लोगों को एक बड़ा झटका लगा है क्योंकि उन्हें विजिटर वीजा प्राप्त करने के लिए 2024 तक इंतजार करना होगा। अमेरिकी विदेश विभाग की वेबसाइट पर पाया गया कि औसत प्रतीक्षा समय लगभग डेढ़ वर्ष है, जिसका अर्थ है कि अभी आवेदन करने की योजना बनाने वालों को मार्च-अप्रैल 2024 तक विजिटर वीजा प्राप्त होगा। वेबसाइट के अनुसार औसत प्रतीक्षा अवधि नई दिल्ली में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास में वीजा नियुक्ति विजिटर वीजा के लिए 522 दिन और स्टूडेंट वीजा के लिए 471 दिन है।

यदि मुंबई से अमेरिका के विजिटर वीजा के लिए अप्लाई किया जाता है, तो यूएस वीजा अपॉइंटमेंट के लिए औसत प्रतीक्षा समय 517 दिन और स्टूडेंट वीजा के लिए 10 दिन है। अन्य सभी गैर-आप्रवासी वीजा के लिए प्रतीक्षा समय दिल्ली में 198 दिन और मुंबई में 72 दिन है।

चेन्नई से विजिटर वीजा के लिए प्रतीक्षा समय 557 दिन है और अन्य सभी गैर-आप्रवासी वीजा के लिए 185 दिन है। स्टेट डिपार्टमेंट की वेबसाइट के मुताबिक हैदराबाद से आवेदन करने वालों को विजिटर वीजा पाने के लिए 518 दिनों तक इंतजार करना होगा।

वेबसाइट पर वीजा पेज के मुताबिक, “अमेरिकी दूतावास या वाणिज्य दूतावास में एक साक्षात्कार नियुक्ति प्राप्त करने के लिए अनुमानित प्रतीक्षा समय बदल सकता है क्योंकि यह कार्यभार और कर्मचारियों पर आधारित है। ये केवल अनुमान हैं और नियुक्ति की उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।”

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार देरी के बारे में रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अमेरिकी दूतावास ने कहा कि विदेश विभाग अप्रवासी और गैर-आप्रवासी यात्रियों दोनों के लिए अमेरिका की वैध यात्रा की सुविधा के लिए प्रतिबद्ध है। दूतावास की ओर से कहा गया कि अमेरिकी सरकार नए कर्मचारियों को ऑनबोर्डिंग और प्रशिक्षण कराने के साथ प्रतीक्षा समय और बैकलॉग को कम करने के लिए कदम उठा रही है।

इससे पहले कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि शेंगेन राज्यों, कनाडा और यूके के लिए भी वीजा में अधिक समय लग रहा है। कनाडा के नागरिकता और आव्रजन पर स्थायी समिति की एक रिपोर्ट के अनुसार 2021 में भारत से अध्ययन परमिट के 41 प्रतिशत आवेदनों को खारिज कर दिया गया था।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट