भारतीय मूल के अमेरिकी सर्जन ने की नर्स का गला घोंटने की कोशिश, गलत वक्त पर इंजेक्शन देने से था खफा - US Police Informs That Indian American Doctor Tried to Cut Nurse Throat - Jansatta
ताज़ा खबर
 

भारतीय मूल के अमेरिकी सर्जन ने की नर्स का गला घोंटने की कोशिश, गलत वक्त पर इंजेक्शन देने से था खफा

शिकायत के अनुसार भारतीय अमेरिकी सर्जन इस बात से नाराज था कि नर्स ने उसके मरीज को गलत समय पर इंजेक्शन लगाया था।

Author वाशिंगटन | January 25, 2018 4:02 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

मरीज को गलत समय पर इंजेक्शन देने से नाराज एक भारतीय अमेरिकी सर्जन ने इलास्टिक से अपनी नर्स का गला घोंटने की कोशिश की। पुलिस ने बताया कि वेंकटेश सास्तकोणार (44) ने अपने वकील के जरिए इन आरोपों से इनकार किया और कहा कि 22 जनवरी को हुई इस घटना को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया है। न्यूयॉर्क स्थित नासाउ यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर में वजन कम करने में मदद करने वाले सर्जन के खिलाफ गला घोंटने और हमला करने आरोप लगाए गए हैं।

पुलिस ने आरोप लगाया कि उसने 51 वर्षीय नर्स के जीवन को खतरे में डाला। शिकायत के अनुसार सर्जन इस बात से नाराज था कि नर्स ने उसके मरीज को गलत समय पर इंजेक्शन लगाया था। आपराधिक शिकायत के अनुसार इसके बाद, सस्तकोणार नर्स के पीछे आया और उसने अपनी स्वैटशर्ट से इलास्टिक निकाली और उसे उसके गले के चारों ओर लपेट दिया। इसके बाद, नर्स का दम घुटने लगा और उसे बहुत दर्द हुआ।

शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि सर्जन ने नर्स को धमकाया और कहा, ‘‘मैं इसके लिए तुम्हारी हत्या कर सकता हूं।’’ इस घटना के बाद, नासाउ यूनिवर्सिटी मेडिकल सेंटर से सर्जन को निलंबित कर दिया गया। उसे मंगलवार को 3,500 डॉलर नकद की जमानत पर रिहा कर दिया गया। पुलिस ने नर्स का नाम उजागर नहीं किया है। गले में अत्यधिक दर्द के कारण नर्स का उपचार किया जा रहा है।

चिकित्सक के वकील मेल्विन रोथ ने दावा किया है कि उनके मुव्वकिल की मंशा नर्स को नुकसान पहुंचाने की नहीं थी। उसने कहा कि चिकित्सक एवं नर्स पिछले 10 साल से दोस्त हैं और तार नर्स की त्वचा को छू भी नहीं पाई। रोथ ने न्यूयॉर्क में लॉन्ग आइलैंड के स्थानीय ‘न्यूज 12’ चैनल से कहा कि सर्जन थोड़ा गुस्से में था और थोड़ा मजाक कर रहा था। उन्होंने कहा, ‘‘तार ने नर्स की त्वचा को छुआ तक नहीं। यह घटना के बारे में हमारा बयान है। वह किसी भी तरह से नर्स को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहता था। उसे कोई नुकसान नहीं पहुंचा।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App