ताज़ा खबर
 

सीरिया में IS के ठिकानों पर अमेरिकी हवाई हमले: पेंटागन

वॉशिंगटन। पेंटागन ने कहा है कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के कई ठिकानों पर हवाई हमले करते हुए इस उग्रवादी संगठन के खिलाफ अपने युद्ध का दायरा बढ़ा दिया है। पेंटागन के प्रेस सचिव रीयर एडमिरल जॉन किर्बी ने कल बताया ‘‘मैं पुष्टि कर सकता हूं कि अमेरिकी सेना और […]

Author Updated: September 23, 2014 12:09 PM

वॉशिंगटन। पेंटागन ने कहा है कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के कई ठिकानों पर हवाई हमले करते हुए इस उग्रवादी संगठन के खिलाफ अपने युद्ध का दायरा बढ़ा दिया है।

पेंटागन के प्रेस सचिव रीयर एडमिरल जॉन किर्बी ने कल बताया ‘‘मैं पुष्टि कर सकता हूं कि अमेरिकी सेना और सहयोगी देशों की फौजें सीरिया में लड़ाकू विमानों, बम वर्षकों तथा तोमहाक लैंड अटैक मिसाइलों का उपयोग करते हुए आईएसआईएल के आतंकवादियों के खिलाफ सैन्य कार्रवाई कर रही हैं।’’
बहरहाल, उन्होंने यह तर्क देते हुए हवाई हमलों का विस्तृत ब्यौरा नहीं दिया कि अभियान जारी हैं।

किर्बी ने कहा ‘‘ये हमले करने का निर्णय अमेरिकी सेंट्रल कमांड के कमांडर ने आज :सोमवार को: तड़के किया जिसे कमांडर इन चीफ ने इसके लिए अधिकृत किया था।’’

राष्ट्रपति बराक ओबामा और अन्य अमेरिकी नेताओं ने हाल ही में कहा था कि वे इस्लामिक स्टेट के खिलाफ हवाई हमलों का आदेश देंगे। इस्लामिक स्टेट को आईएसआईएल के नाम से भी जाना जाता है। इस आतंकी संगठन ने सीरिया में अपनी पकड़ बना ली है और सीआईए का अनुमान है कि इसके लड़ाकों की संख्या करीब 31,000 है।

आईएसआई ने सीरिया के पूर्वी भाग के ज्यादातर हिस्सों पर कब्जा कर लिया है और वहां तैयार किए गए अपने आधार का उपयोग उसने समीपवर्ती इराक के हिस्सों पर नियंत्रण करने के लिए किया है।

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 8 अगस्त को इराक में आईएस के खिलाफ हवाई हमले शुरू किए थे।

अंतरराष्ट्रीय समुदाय जून में तब हतप्रभ रह गया था जब आईएस ने उत्तरी इराक के हिस्सों से आगे बढ़ते हुए बड़े शहरों मोसुल तथा तिकरित पर कब्जा कर लिया और इतने आगे बढ़ गए थे कि उनसे बगदाद की दूरी 50 किमी से भी कम रह गई थी।

Next Stories
1 बराक ओबामा ने सीक्रेट सर्विस में जताया भरोसा
2 लेफ्टिनेंट जनरल रिजवान अख्तर होंगे ISI के नए प्रमुख
3 शी चिनफिंग की यात्रा से भारत-चीन संबंध के बीच के कुछ संदेह हुए दूर
ये पढ़ा क्या?
X