ताज़ा खबर
 

शरीफ ने राइस से कहा, भारत के साथ सार्थक बातचीत चाहता है पाकिस्तान

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) सुजैन राइस से कहा कि उनका देश भारत के साथ सभी लंबित मुद्दों पर एक ‘‘सार्थक’’ बातचीत चाहता है..

Author इस्लामाबाद | August 31, 2015 11:52 AM
अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सुजैन राइस पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से बातचीत करतीं हुईं। (फोटो-एएफपी)

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) सुजैन राइस से कहा कि उनका देश भारत के साथ सभी लंबित मुद्दों पर एक ‘‘सार्थक’’ बातचीत चाहता है। वहीं राइस ने इस्लामाबाद को क्षेत्रीय शांति और स्थिरता बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया।

‘डान न्यूज’ की खबर के अनुसार शरीफ ने राइस से अपनी मुलाकात में भारत के साथ संबंधों के बारे में बात करते हुए अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल को भारत और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बातचीत रद्द होने के कारण बताये। शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ सभी लंबित मुद्दों पर ‘‘सार्थक’’ एवं ‘‘उद्देश्यपूर्ण’’ बातचीत चाहता है।

राइस विभिन्न मामलों पर विचारों का अदान प्रदान करने तथा अक्तूबर में शरीफ की अमेरिका यात्रा के लिए एजेंडा तैयार करने के लिहाज से एक दिन की यात्रा पर पाकिस्तान पहुंचीं। शरीफ के कार्यालय की ओर से जारी बयान में भारत के साथ संबंधों के बारे में उनकी ओर से की गई टिप्पणियों का कोई सीधा उल्लेख नहीं किया गया। बयान में कहा गया कि बैठक ‘‘द्विपक्षीय हितों के मामलों और पाकिस्तान-अमेरिका संबंधों के भविष्य पर कें्िरदत रही।’’

बयान में कोई विस्तृत जानकारी दिये बिना कहा गया कि ‘‘इस दौरान क्षेत्र की स्थिति पर भी चर्चा की गई।’’ वाशिंगटन के लिए रवाना होने से पहले राइस ने ट्वीट किया, ‘‘इस्लामाबाद में आज इस बारे में विचार-विमर्श हुआ कि साझा प्राथमिकताओं के लिहाज से सहयोग को कैसे प्रगाढ़ किया जाए। क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान को प्रोत्साहित किया।’’

राइस ने पाकिस्तान यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री शरीफ, पाकिस्तानी एनएसए सरताज अजीज और सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ समेत शीर्ष पाकिस्तानी नेतृत्व से बात की। खबरों के अनुसार अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार भारत और पाकिस्तान के तनाव को कम करने के अमेरिका के प्रयासों के तहत यहां की ‘‘आपात यात्रा’’ पर आईं।

हालांकि व्हाइट हाउस ने कहा कि राइस की यात्रा पहले से तय थी और यह बढ़ते तनाव के बीच ‘‘आपात यात्रा’’ नहीं है।
पाकिस्तान ने भारत के साथ प्रस्तावित एनएसए स्तरीय बातचीत को आखिरी समय में इसलिए रद्द कर दिया था क्योंकि भारत ने पाकिस्तान को कश्मीरी अलगाववादियों से चर्चा करने की इजाजत नहीं दी।

राइस के साथ बैठक के दौरान शरीफ ने कहा कि अमेरिका सभी क्षेत्रों विशेष तौर पर आर्थिक, रक्षा और आतंकवाद निरोधक कार्रवाई के मुद्दे पर पाकिस्तान का एक महत्वपूर्ण सहयोगी है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अमेरिका के साथ अपने संबंध को एक ऐसी साझेदारी के तौर पर देखता है जो न केवल दोनों देशों बल्कि क्षेत्र और विश्व के हित में है।

शरीफ ने कहा कि वह अक्तूबर में अपनी अमेरिका यात्रा को द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के अवसर के तौर पर देख रहे हैं। राइस ने बाद में सरताज अजीज से भी मुलाकात की। इस दौरान क्षेत्रीय हालात पर और खासतौर पर भारत-पाक वार्ता प्रक्रिया में गतिरोध तथा अफगानिस्तान के सुरक्षा माहौल के मद्देनजर व्यापक चर्चा हुई। जनरल शरीफ से राइस की मुलाकात में क्षेत्र में सुरक्षा हालात समेत आपसी हितों के मुद्दों पर चर्चा हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App