गुरुद्वारा में तोड़फोड़ करने वाले अमेरिकी नागरिक को 80 घंटे तक सामुदायिक सेवा का आदेश

आरोपी ब्रॉडी दुराजो ने तोड़फोड़ का अपराध और धार्मिक संपत्ति को तहस नहस करने का आरोप कबूल लिया

Danish Woman Gangrape Case Court Order on Tomorrow
अधिकतम सजा की मांग करते हुए अभियोजक ने दलील दी कि विदेशी के साथ हुआ अपराध बर्बरतापूर्ण एवं अमानवीय ढंग से किया गया तथा इन दोषियों ने देश की छवि पर धब्बा लगाया है।

अमेरिका में सान बना दिनो गोलीबारी की घटना के बाद एक गुरुद्वारा में नफरत फैलाने वाली आईएसआईएस विरोधी आकृति उकेरने के साथ उसमें तोड़फोड़ की घटना को अंजाम देने वाले 21 वर्षीय व्यक्ति को सजा के तौर पर उसके द्वारा निशाना बनाए गए गुरुद्वारा में 80 घंटे सामुदायिक सेवा करने का आदेश दिया गया है। साथ ही आकृति को 240 घंटों के भीतर मिटाने का कहा गया है।

ब्रॉडी दुराजो ने तोड़फोड़ का अपराध और धार्मिक संपत्ति को तहस नहस करने का आरोप कबूल लिया, जिसके लिए उसे लॉस एंजिलिस के उपनगरीय बुएना पार्क स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा में 80 घंटे तक सेवा देने को कहा गया और साथ ही गुरुद्वारा में जहां तहां अंकित आकृति को हटाने के लिए 240 घंटे का समय दिया है।

डिप्टी डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी जेस रोड्रिगेज ने न्यायाधीश को बताया कि गुरुद्वारा के ग्रंथी उसे (दुराजो को) वहां सामुदायिक सेवा की इजाजत देने पर सहमत हैं। मंगलवार को सुनवाई के दौरान रोड्रिगेज ने बताया, ‘‘उनका मानना है कि इसका एक रचनात्मक नतीजा निकलेगा और दुराजो को उनके बारे में तथा उनकी मान्यताओं के बारे में जानने का मौका मिलेगा। वे उसमें कुछ सकारात्मक बदलाव देखना चाहते हैं।’’ लंबे समय से गुरुद्वारा के सदस्य रहे जपनाम सिंह ने कहा, ‘‘माफ करना हमारे धर्म की विशेषता है और इसका पालन हम हर दिन करते हैं।’’