ताज़ा खबर
 

भारत-अमेरिका में हुआ करार, 2020 तक पूरे भारत में मिलकर करेंगे उजाला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा के बीच बातचीत में भारत को सौर ऊर्जा पर सहायता दिए जाने पर सहमति बन गई है।

Author June 9, 2016 11:20 AM
इस प्रोजेक्‍ट के लिए दोनों देश 20-20 मिलियन डॉलर का सहयोग करेंगे। (REPRESENTATIONAL IMAGE)

भारत और अमेरिका 400 मिलियन डॉलर के खर्च से पूरे देश को सौर ऊर्जा से लैस करेंगे। अमेरिका ने इसके लिए वित्‍तीय और तकनीकी सहायता मुहैया कराने का वादा किया है। दोनों नेताओं के बीच हुई बातचीत के बाद जारी साझा बयान में कहा गया है कि इस प्रोजेक्‍ट के लिए दोनों देश 20-20 मिलियन डॉलर का सहयोग करेंगे। इस प्रोजेक्‍ट को US-India Clean Energy Finance Initiative कहा गया है।

बयान के अनुसार, यूएस भारत के बड़े वित्‍तीय संस्‍थानों के साथ मिलकर गैर परंपरागत ऊर्जा क्षेत्र में निवेश बढ़ाएगा। दोनों देशों के बीच 40 मिलियन डाॅलर की लागत वाले Catalytic Solar Finance Program के जरिए लो-लेवल गैर परंपरागत ऊर्जा स्‍त्रोतों को मदद की जाएगी। इसे विशेष रूप से आर्थिक रूप से पिछड़े गावों में चलाया जाएगा। साथ ही ग्रिड के नजदीक या उससे जुड़े गांवों को चुने जाने की उम्‍मीद है।

READ ALSO: गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किया ऐलान, महाराणा प्रताप के नाम पर रखा जाएगा भारतीय रिजर्व बटालियन का नाम

HOT DEALS
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 25000 MRP ₹ 26000 -4%
    ₹0 Cashback
  • jivi energy E12 8GB (black)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹280 Cashback

दोनों देशों ने गैर परंपरागत ऊर्जा क्षेत्र में रिसर्च एंड डेवलपमेंट के लिए सहयोग किए जाने पर भी सहमति जताई है। दोनों देशों के बीच 30 मिलियन डॉलर के पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के तहत स्मार्ट ग्रिड और ग्रिड स्टोरेज के क्षेत्र में रिसर्च के लिए एग्रीमेंट हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App