ताज़ा खबर
 

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा: अमेरिका में इबोला के पहले मामले का पता चला

वाशिंगटन। अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि उनके देश में घातक इबोला वायरस के संक्रमण के पहले मामले का पता चला है जब लाइबेरिया में इस वायरस से संक्रमित हुआ व्यक्ति टैक्सास पहुंचा। अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सेंटर्स फॉर डिज़ज़ कंट्रोल एंड प्रीवेन्शन: के प्रवक्ता ने कल एएफपी को बताया कि […]

Author Updated: October 1, 2014 12:32 PM

वाशिंगटन। अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि उनके देश में घातक इबोला वायरस के संक्रमण के पहले मामले का पता चला है जब लाइबेरिया में इस वायरस से संक्रमित हुआ व्यक्ति टैक्सास पहुंचा।

अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सेंटर्स फॉर डिज़ज़ कंट्रोल एंड प्रीवेन्शन: के प्रवक्ता ने कल एएफपी को बताया कि बीमारी के लक्षण नजर आने के बाद इस मरीज को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इसे इबोला का संक्रमण होने की पुष्टि हुई।

इसके बारे में विस्तृत जानकारी सीडीसी के संवाददाता सम्मेलन में दी जाएगी।

इससे पहले, कल डलास स्थित टैक्सास हेल्थ प्रेसबायटेरियन अस्पताल ने बताया था कि इबोला के संक्रमण के लक्षण वाले व्यक्ति को विशेष देखरेख में बिल्कुल अलग थलग रखा गया है।

अमेरिका में इबोला का यह पहला मामला है। हालांकि पश्चिम अफ्रीका गए कुछ अमेरिकी स्वास्थ्यकर्मी इस वायरस से संक्रमित हो गये थे। पर उन्हें इलाज के लिये वापस अमेरिका लाया गया और अब वे स्वस्थ हो चुके हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, इबोला से पश्चिम अफ्रीका के पांच देशों में 6,574 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 3,091 लोगों की जान जा चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories