ताज़ा खबर
 

एक और वैक्सीन तैयार- दिसंबर तक 2 करोड़ डोज सप्लाई करने की तैयारी में मॉडर्ना

कंपनी ने कहा कि वह साल के अंत तक वैक्सीन की लगभग दो करोड़ खुराक की उम्मीद कर रही है। इस वैक्सीन को mRNA-1273 नाम दिया गया है और यह इस साल के अंत तक अमेरिका में उपलब्ध हो जाएगी।

corona vaccine, covid-19 vaccine, modernaगंभीर मामलों में मॉडर्ना की विकसित वैक्सीन का प्रभाव 100 फीसदी तक है। (फाइल फोटो)

दुनियाभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच में लोगों के लिए एक राहत भरी खबर सामने आई है। महामारी के बीच कोरोना का एक और वैक्सीन तैयार हो चुकी है।

अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना अपने वैक्सीन को लेकर अमेरिका और यूरोप में इमरजेंसी मान्यता देने के लिए आवेदन कर रही है। इससे पहले व्यापक पैमाने पर हुए ट्रायल में कंपनी की वैक्सीन 94.1 फीसदी तक प्रभावी रही। खास बात यह रही कि इससे जुड़ी कोई गंभीर सुरक्षा चिंता सामने नहीं आई। मॉडर्ना ने खबर दी कि वैक्सीन की प्रभावकारिता सभी आयु वर्ग के लोगों में कोई असंगति नहीं है। इसके अतिरिक्त गंभीर मामलों में वैक्सीन का प्रभाव 100 फीसदी तक है।

अमेरिकी कंपनी फाइजर और बायोएनटेक की तरफ से विकसित शॉट के बाद यह दूसरा उत्पाद है जिसे अमेरिका में इमरजेंसी मान्यता देने के लिए आवेदन किया गया है। फाइजर की वैक्सीन ट्रायल में 95 फीसदी तक प्रभावी पाई गई थी। मॉडर्ना के चीफ मेडिकल अधिकारी ताल जैक ने कहा कि हमें उम्मीद है कि हमारे पास वह वैक्सीन है जो बहुत ही प्रभावी है। अब इसे साबित करने के लिए हमारे पास डाटा भी है।

कंपनी का कहना है कि वह साल के अंत तक वैक्सीन की लगभग दो करोड़ खुराक की उम्मीद कर रही है। इस वैक्सीन को mRNA-1273 नाम दिया गया है और यह इस साल के अंत तक अमेरिका में उपलब्ध हो जाएगी। इससे पहले भारत में इस महीने सातवीं बार एक दिन में कोविड-19 के 40,000 से कम मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 94.31 लाख से अधिक हो गए।

इनमें से 88,47,600 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। वहीं, केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा करने के लिए चार दिसंबर को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसद के दोनों सदनों के विभिन्न दलों के नेताओं से बातचीत करने की संभावना हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोविड-19 के टीके को विकसित कर रही और उसका विनिर्माण कर रही तीन टीमों के साथ सोमवार को एक ऑनलाइन बैठक की और कहा कि लोगों को कोविड-19 टीके के प्रभावी होने समेत इससे जुड़े अन्य मामलों को सरल भाषा में सूचित करने के लिए अतिरिक्त प्रयास करें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बढ़ेगी चिंता? ब्रह्मपुत्र नदी पर बांध बनाएगा चीन, LAC पर तनाव के बीच बढ़ सकता है विवाद!
2 नाइजीरिया में बोको हरम का आतंक! फसल काट रहे थे किसान, 43 को उतार दिया मौत के घाट
3 US चुनाव: हार नहीं माने ट्रंप, सिस्टम को लिया आड़े हाथ, कहा- टॉप कोर्ट में सुनवाई मुश्किल
कोरोना टीकाकरण
X