ताज़ा खबर
 

चीन में पहली बार मंदी का खतरा, परेशानी खड़ी कर सकता है अमेरिका

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका और चीन के अधिकारियों के बीच होने वाली व्यापार बैठक अभी भी सितंबर में हो सकती है। ट्रंप के अनुसार, वह इस संबंध में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ फोन पर बातचीत करेंगे।

Author नई दिल्ली | Published on: August 16, 2019 10:23 AM
अमेरिका-चीन के बीच जारी व्यापार युद्ध से चीन में मंदी का खतरा। (Reuters File Photo)

चीन और अमेरिका के बीच जारी व्यापार युद्ध का चीन की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है और माना जा रहा है कि इस व्यापार युद्ध के चलते चीन पहली बार मंदी की चपेट में आ सकता है। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पूर्व आर्थिक सलाहकार स्टीव मूर ने यह अनुमान जाहिर किया है। स्टीव मूर फिलहाल हेरीटेज फाउंडेशन का संचालन करते हैं। गुरुवार को राष्ट्रपति ट्रंप ने भी मूर के इस अनुमान को ट्वीट किया।

डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को ट्वीट कर स्टीव मूर के बयान का उल्लेख करते हुए लिखा कि ‘यदि चीन, अमेरिका के साथ व्यापार समझौता नहीं करता है तो उसे मंदी का सामना करना पड़ सकता है। चीन में इस वक्त निवेश नहीं हो रहा है।’ इस ट्वीट के अंत में ट्रंप ने स्टीव मूर को नाम भी लिखा है।

हाल ही में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका और चीन के अधिकारियों के बीच होने वाली व्यापार बैठक अभी भी सितंबर में हो सकती है। ट्रंप के अनुसार, वह इस संबंध में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ फोन पर बातचीत करेंगे।

बता दें कि चीन और अमेरिका के बीच निर्यात टैरिफ को लेकर व्यापार युद्ध छिड़ा हुआ है। इस व्यापार युद्ध में दोनों देश एक दूसरे के निर्यात सामान पर टैरिफ लगा रहे हैं। हाल ही में अमेरिका ने चीन को करेंसी मैनीपुलेटर होने का भी आरोप लगाया था। बता दें कि बीती एक अगस्त को डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से निर्यात होकर अमेरिका आने वाले 300 बिलियन यूएस डॉलर के सामान पर एक सितंबर से 10% टैरिफ लगाने का ऐलान किया था। इस सामान पर अमेरिका बीते दिनों तक कोई टैक्स नहीं लगाता था।

इसके बाद दोनों देशों के बीच शंघाई में एक बैठक भी हुई। अमेरिका चीन से आयात होने वाले 250 बिलियन डॉलर के अन्य सामान पर भी 25% टैक्स लगा चुका है। इसके जवाब में चीन ने अपनी करेंसी युआन का अवमूल्यन कर लिया था। इसके साथ ही चीन ने अमेरिका से आयात होने वाले कृषि उत्पादों की खरीद पर भी रोक लगा दी थी। चीन ने अमेरिका द्वारा उसके सामान पर टैक्स लगाने को दोनों देशों के बीच हुए समझौते का उल्लंघन बताया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अमेरिकी नेता का आपत्तिजनक बयान, बोले- जनसंख्या बढ़ाने में मदद करते हैं रेप और सगे-संबंधियों के कुकर्म
2 पाकिस्तान को रूस ने भी सुना दिया दो टुक, “कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा है, आपस में सुलझाएं”
3 ट्विटर पर वायरल हो रहा ‘बलूचिस्तान एकता दिवस’, पाकिस्तान को बता रहे मक्कार