scorecardresearch

चीन को पछाड़ भारत का सबसे बड़ा ट्रेडिंग पार्टनर बना अमेरिका, हुआ 119 अरब डॉलर का कारोबार

भारत से अमेरिका पेट्रोलियम, पॉलिश किए गए हीरे, दवा उत्पाद और अन्य चीजें निर्यात करता है। जबकि भारत, अमेरिका से कच्चे हीरे, कोयला और तरल प्राकृतिक गैस जैसी चीजें आयात करता है।

narendra modi| joe biden| india america|
पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (फोटो सोर्स: @narendraModi)

भारत अब अमेरिका का शीर्ष व्यापारिक भागीदार बन गया है और यह दोनों देशों के बीच मजबूत आर्थिक संबंधों को भी दर्शाता है। वाणिज्य मंत्रालय के 2021-22 के आंकड़ों के अनुसार अमेरिका और भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार 119 बिलियन अमेरिकी डॉलर पार कर गया। दोनों देशों के बीच करीब 119.42 बिलियन अमेरिकी डॉलर का व्यापार हुआ। जबकि 2020-21 में यह आंकड़ा 80.51 बिलियन अमेरिकी डॉलर था।

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका को निर्यात 2021-22 में बढ़कर 76.11 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जो पिछले वित्त वर्ष में 51.62 बिलियन अमेरिकी डॉलर था। जबकि आयात 2020-21 में लगभग 29 बिलियन अमेरिकी डॉलर की तुलना में 43.31 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया। 2021-22 के दौरान चीन के साथ भारत का वाणिज्य व्यापार 115.42 बिलियन अमरीकी डालर था, जबकि 2020-21 में यह 86.4 बिलियन अमरीकी डॉलर था।

चीन को निर्यात पिछले वित्त वर्ष में मामूली रूप से बढ़कर 21.25 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जो उसके पिछले वित्त वर्ष 2020-21 में 21.18 बिलियन अमेरिकी डॉलर था। जबकि आयात 2020-21 में लगभग 65.21 बिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 94.16 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया। व्यापार अंतर 2021-22 में बढ़कर 72.91 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जो पिछले वित्त वर्ष में 44 बिलियन अमेरिकी डॉलर था।

फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन के उपाध्यक्ष खालिद खान ने बताया कि भारत एक विश्वसनीय व्यापारिक भागीदार के रूप में उभर रहा है और वैश्विक कंपनियां अपनी आपूर्ति के लिए केवल चीन पर निर्भरता कम कर रही हैं और भारत जैसे अन्य देशों में कारोबार का विस्तार कर रही हैं।

भारतीय बागान प्रबंधन संस्थान (आईआईपीएम) बैंगलोर के निदेशक राकेश मोहन जोशी ने कहा, “भारत दुनिया के तीसरे सबसे बड़े उपभोक्ता बाजार के साथ 1.39 अरब लोगों का घर है और अद्वितीय जनसांख्यिकीय लाभांश के साथ सबसे तेजी से बढ़ती बाजार अर्थव्यवस्था के लिए विशाल अवसर प्रदान करता है। भारत से अमेरिका को प्रमुख निर्यात वस्तुओं में पेट्रोलियम, पॉलिश किए गए हीरे, दवा उत्पाद, आभूषण, हल्के तेल और पेट्रोलियम आदि शामिल हैं। जबकि अमेरिका से प्रमुख आयात में पेट्रोलियम, कच्चे हीरे, तरल प्राकृतिक गैस, सोना, कोयला शामिल हैं।”

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X