ताज़ा खबर
 

चीन को झटका: दुनिया के तीसरे सबसे ज्यादा आबादी वाले देश में Tiktok और wechat बैन!

टिकटॉक के करीब 100 मिलियन यानी 10 करोड़ यूजर्स हैं। इससे पहले भारत में टिकटॉक को बैन किया गया था। अमेरिकी सरकार ने WeChat और TikTok दोनों पर "चीन की सिविल-मिलिट्री में सक्रिय भागीदार" होने का आरोप लगाया।

TikTok, WeChat, US, US ban Wechat, US ban tiktok, Donald trump, trump ban tiktok, trump ban wechatअमेरिका में कोई भी व्यक्ति जो अपने फोन पर पहले से ही एप डाउनलोड कर चुका है, उसको इस्तेमाल करने में कोई परेशानी नहीं होगी।

अमेरिका में चीनी ऐप टिकटॉक (TikTok) और वीचैट (WeChat) जल्द बंद हो जाएगा। इन ऐप्स को बैन करने के आदेश पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने हस्ताक्षर कर दिए हैं। ट्रंप के कार्यकारी आदेश में TikTok को अमेरिकी अर्थव्यवस्था और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा करार दिया गया है। यह आदेश अगले 45 दिनों में लागू हो जाएगा। आदेश के लागू होने के बाद TikTok के लिए अमेरिका में कारोबार करना पूरी तरह से बंद हो जाएगा। ऐसे में कोई भी व्यक्ति या फिर फर्म TikTok की पैरेंट्स कंपनी ByteDance के साथ कारोबारी लेनदेन नही कर पाएगी। हालांकि इस 45 दिनों में ByteDance के पास TikTok के अमेरिकी कारोबार को बेचने का अधिकार जरूर होगा।

टिकटॉक के करीब 100 मिलियन यानी 10 करोड़ यूजर्स हैं। इससे पहले भारत में टिकटॉक को बैन किया गया था। इस कार्रवाई से पहले एक खबर आई थी जिसमें डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उन्होंने टिकटॉक के बारे में फैसला करने के लिए वॉलमार्ट और ओरेकल प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की है। पिछले महीने ट्रंप ने टिकटॉक और वीचैट पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक कार्यकारी आदेश पर दस्तखत किए थे, जिसके तहत दोनों चीनी कंपनियां अपना स्वामित्व किसी अमेरिकी कंपनी को देकर प्रतिबंध से बच सकती हैं। इस समय टिकटॉक का स्वामित्व बीजिंग स्थित बाइटडांस के पास है। शुरुआत में टिकटॉक के साथ बातचीत में माइक्रोसॉफ्ट शामिल था, हालांकि अब ओरेकल और वॉलमार्ट इस संबंध में बाइटडांस के साथ बातचीत कर रही हैं।

शुक्रवार को, अमेरिकी सरकार ने WeChat और TikTok दोनों पर “चीन की सिविल-मिलिट्री में सक्रिय भागीदार” होने का आरोप लगाया।  इसमें कहा गया है कि वे “नेटवर्क गतिविधि, लोकेशन डेटा, ब्राउज़िंग और सर्च हिस्ट्री सहित यूज़र्स के डेटा को इकठ्ठा करते हैं।” हालांकि ,अमेरिका में कोई भी व्यक्ति जो अपने फोन पर पहले से ही एप डाउनलोड कर चुका है, उसको इस्तेमाल करने में कोई परेशानी नहीं होगी, लेकिन आगे चलकर ऐप स्टोर से जबरन हटाने से कारण एप चलाने में समस्या हो सकती है।

प्रतिबंध अमेरिकी व्यवसायों को ऐप का उपयोग जारी रखने से प्रतिबंधित नहीं करता है। उदाहरण के लिए, स्टारबक्स और वॉलमार्ट, चीन में ग्राहकों के साथ संवाद करने के लिए वीचैट का उपयोग करते हैं। हालांकि, इसमें WeChat पर अतिरिक्त अनेक प्रतिबंध शामिल हैं, जिसमें उपयोगकर्ता के डेटा को इस्तेमाल करने पर पाबंदी और अमेरिका के अंदर अन्य सेवाओं पर रोक शामिल है।  इसी तरह के प्रतिबंध 12 नवंबर से टिक-टॉक पर भी लागू होंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर कोरिया में हर दिन डेढ़ घंटे तानाशाह किम जोंग-उन के बारे में पढ़ेंगे स्कूली बच्चे, देश के नेतृत्व के प्रति वफादार बनाने के लिए नया पाठ्यक्रम लागू
2 US Presidential Election 2020: डोनाल्ड ट्रंप पर पूर्व मॉडल ने लगाया यौन शोषण का आरोप, बोलीं- टेनिस मैच के बीच जबरन कर लिया था किस
3 मोदी सरकार ने मानी, चीनी बैंकों से कर्ज लेने की बात, सुरजेवाला बोले- यही है झूठी राष्ट्र भक्ति
IPL Records
X