अमेरिका: यौन उत्पीड़न की पीड़िता भारतीय पादरी, चर्च पर करेगी मुकदमा - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अमेरिका: यौन उत्पीड़न की पीड़िता भारतीय पादरी, चर्च पर करेगी मुकदमा

भारतीय पादरी जयपॉल 2004 और 2005 में मिनेसोटा के क्रुकस्टन नगर में एक पादरी के तौर पर सेवा देते थे। उन्हें 2012 में भारत में गिरफ्तार किया गया था

Author वॉशिंगटन | April 19, 2016 6:08 PM
डाइओसिस ऑफ ऊटाकमुंड जोसेफ जयपॉल (फाइल फोटो)

अमेरिका की 26 वर्षीय एक महिला कथित तौर पर उसका यौन उत्पीड़न करने के लिए एक कैथोलिक भारतीय पादरी और भारत में उसके गिरजाघर के खिलाफ मुकदमा दायर करेगी। यह मामला पादरी के अमेरिका में 2004 और 2005 के बीच तैनाती के दौरान का है। यह कदम वेटिकन के हाल के इस फैसले के खिलाफ उठाया गया है जिसमें ऐलान किया गया था कि मायलापुर स्थित डाइओसिस ऑफ ऊटाकमुंड जोसेफ जयपॉल का पद बहाल कर रहा है।

मिनेसोटा के अटॉर्नी जेफ एंडरसन पीड़िता की ओर से संघीय अदालत में वाद दायर करेंगे जिसमें दावा किया गया है कि डाइओसिस ऑफ ऊाटाकमुंड ने जयपॉल को बहाल करके बच्चों को खतरे में डाला है। जयपॉल 2004 और 2005 में मिनेसोटा के क्रुकस्टन नगर में एक पादरी के तौर पर सेवा देते थे। उन्हें 2012 में भारत में गिरफ्तार किया गया था और धार्मिक सभा में दो लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में अमेरिका प्रत्यर्पित किया गया था।

एक साल एक दिन की सजा पूरी करने के बाद पिछले साल उसे भारत भेज दिया गया था। हिमायती समूह एसएनएपी (सर्वाइवर्स नेटवर्क ऑफ दोज एब्यूज्ड बाइ प्रीस्ट) ने एक बयान में कहा कि यौन उत्पीड़न की एक पीड़िता पादरी और धर्म स्थल पर मुकदमा दायर करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App