ताज़ा खबर
 

संराष्ट्र ने सईद के नाम से ‘साहिब’ हटाया, गलती पर जताया खेद

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक समिति ने मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य सरगना और जमात उल दावा प्रमुख हाफिज सईद के नाम से ‘‘साहिब’’ शब्द को हटाते हुए एक संशोधित पत्र जारी किया। समिति ने कहा है कि भारत द्वारा इस संबंध में आपत्ति जताए जाने के बाद गलती पर खेद व्यक्त किया जाता […]
Author December 23, 2014 15:12 pm
पेशावर के स्कूल पर हुए आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान में छह साल से लगी मृत्युदंड की सजा पर लगी पाबंदी को हटा लिया गया था।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक समिति ने मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य सरगना और जमात उल दावा प्रमुख हाफिज सईद के नाम से ‘‘साहिब’’ शब्द को हटाते हुए एक संशोधित पत्र जारी किया। समिति ने कहा है कि भारत द्वारा इस संबंध में आपत्ति जताए जाने के बाद गलती पर खेद व्यक्त किया जाता है। सुरक्षा परिषद् के अल कायदा प्रतिबंध समिति ने एक संशोधित पत्र जारी किया जिसमें 17 दिसंबर के पत्र में हुई ‘‘गलती पर खेद’’ जताया गया है।

समिति के अध्यक्ष गैरी क्यूइनलान हैं जो संयुक्त राष्ट्र में ऑस्ट्रेलिया के स्थायी प्रतिनिधि हैं। क्यूइनलान ने प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन लश्कर ए तय्यबा और इसके संस्थापक सईद के संबंध में सूचना को लेकर जारी संदेश में सईद का जिक्र किया था।

नए पत्र में स्पष्ट तौर पर पाकिस्तानी आतंकवादी का नाम हाफिज मोहम्मद सईद लिखा गया है। संयुक्त राष्ट्र ने दिसंबर 2008 में जमात उद दावा को आतंकवादी संगठन घोषित किया था। सईद खुद भी संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी घोषित लोगों की सूची में शामिल है। लेकिन सईद पाकिस्तान में आजादी से घूमता है और अक्सर सार्वजनिक सभाओं को संबोधित करता है जिनमें वह अक्सर भड़काऊ भाषण देता है।

भारत में पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने सितंबर में कहा था, ‘‘हाफिज सईद एक पाकिस्तानी नागरिक है इसलिए वह आजाद होकर घूमता है।’’ भारत ने इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी जो जमात उद दावा को 26/11 मुंबई हमले का मुख्य साजिशकर्ता मानता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.