ताज़ा खबर
 

संयुक्त राष्ट्र महासभा के होनेवाले अध्यक्ष सोमवार को भारत यात्रा पर, सुरक्षा परिषद में सुधार का मुद्दा होगा अहम

फिजी के स्थायी प्रतिनिधि थॉमसन को जून में संयुक्त राष्ट्र महासभा के आगामी 71वें सत्र के अध्यक्ष के रूप में चुना गया था।

Author संयुक्त राष्ट्र | August 25, 2016 2:30 PM
संयुक्त राष्ट्र महासभा के भावी अध्यक्ष राजदूत पीटर थॉमसन। (एपी फाइल फोटो)

संयुक्त राष्ट्र महासभा के भावी अध्यक्ष राजदूत पीटर थॉमसन अगले हफ्ते की शुरुआत में भारत यात्रा पर आएंगे। इस दौरान वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात कर सकते हैं और महत्वाकांक्षी टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) पर चर्चा कर सकते हैं। फिजी के स्थायी प्रतिनिधि थॉमसन को जून में संयुक्त राष्ट्र महासभा के आगामी 71वें सत्र के अध्यक्ष के रूप में चुना गया था। वह इस सप्ताह के अंत में चीन जाएंगे और फिर भारत आएंगे। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष के कार्यालय की ओर से बुधवार (24 अगस्त) को जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि भावी अध्यक्ष 29 अगस्त को नई दिल्ली में होंगे। यहां वे मोदी, सुषमा और विदेश मामलों की सचिव सुजाता मेहता से मुलाकात करेंगे।

थॉमसन ने कहा, ‘एशिया-प्रशांत देश फिजी से होने के कारण मैं जिस क्षेत्रीय समूह में आता हूं उसके दो सबसे बड़े देशों में दौरा करने का मौका मिला है, इसकी मुझे खुशी है।’ उन्होंने कहा कि वह चीन और भारत की सरकारों के साथ ‘उच्च स्तरीय’ वार्ताओं का इंतजार कर रहे हैं। थॉमसन ने कहा, ‘मेरी खास दिलचस्पी इस बात पर चर्चा करने में होगी कि संयुक्त राष्ट्र टिकाऊ विकास के 2030 के एजेंडे को लागू करने में किस तरह से मदद कर सकता है और इसमें तेजी ला सकता है।’ थॉमसन बुधवार (24 अगस्त) को बीजिंग में आधिकारिक बैठकों में शामिल होंगे। ऐसी संभावना है कि वे चीनी प्रधानमंत्री ली क्विंग, स्टेट काउंसलर यांग जीची और विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात करेंगे।

सुषमा स्वराज महासभा के 71वें सत्र की उच्च स्तरीय आम बहस में हिस्सा लेने के लिए अगले माह न्यूयॉर्क जाएंगी। वह 26 सितंबर को महासभा के प्रतिष्ठित मंच से वैश्विक नेताओं को संबोधित करेंगी। मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 2014 और 2015 के सत्रों को संबोधित किया था लेकिन इस बार वह महासभा के सत्र में शामिल नहीं होंगे। सुरक्षा परिषद के लंबे समय से लंबित सुधारों को जल्दी पूरा करने की दिशा में नई दिल्ली के प्रयासों के मद्देनजर थॉमसन की भारत यात्रा को अहम माना जा रहा है।

भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सुधारों को महासभा के 70वें सत्र में पूरा करने पर जोर दे रहा है। यह सत्र अगले माह खत्म हो जाएगा। थॉमसन 13 सितंबर से शुरू होने वाले 71वें सत्र की अध्यक्षता करेंगे। इस दौरान सदस्य देशों में से अधिकतर देश यह उम्मीद लगाए हुए हैं कि सुरक्षा परिषद सुधार की प्रक्रिया में तेजी आएगी और इस दिशा में ठोस नतीजे मिलेंगे। जी4 देशों समेत भारत ने कहा था कि यह बहुत ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ है कि सुरक्षा परिषद के सुधार 70वें सत्र में गति नहीं पकड़ सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App