ताज़ा खबर
 

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण पर सुरक्षा परिषद की अहम बैठक

अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया ने रविवार को हुए उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के संदर्भ में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की तत्काल बैठक का आह्वान किया।

Author नई दिल्ली | May 22, 2017 10:02 AM
नॉर्थ कोरिया लीडर किम जोन (एजेंसी)

अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया ने रविवार को हुए उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के संदर्भ में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की तत्काल बैठक का आह्वान किया। यह बैठक मंगलवार को होने जा रही है। समाचार एजेंसी एफे ने उत्तर कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के हवाले से बताया कि उत्तर कोरिया की सेना ने स्थानीय समयानुसार शाम 4.59 बजे पुकचांग के पास पूर्वी दिशा की ओर मिसाइल का परीक्षण किया।

उत्तर कोरिया द्वारा जारी बयान के मुताबिक, मिसाइल 560 किलोमीटर की ऊंचाई तक गई और इसने 500 किलोमीटर तक का सफर तय किया। अमेरिकी प्रशांत कमान ने कहा कि यह मिसाइल जापानी सागर में जा गिरी और सभी संकेतों से पता चलता है कि यह मध्यम दूरी की मिसाइल थी। राजनयिक अधिकारियों ने मंगलवार को होने वाली सुरक्षा परिषद की बैठक के एजेंडे के बारे में नहीं बताया। उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए ने इस मिसाइल परीक्षण को सफल करार दिया।

बता दें कि  उत्तर कोरिया ने सोमवार को मध्यम दूरी की एक अन्य बैलिस्टिक मिसाइल के परीक्षण की पुष्टि की। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन के नेतृत्व में जमीन से जमीन पर मार करने वाली मध्यम से लंबी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया था। ‘पुकगुकसोंग-2’ का परीक्षण हथियार प्रणाली की तकनीकी जांच के लिए किया गया ता।

उत्तर कोरिया ने एक सप्ताह के भीतर दूसरी बार मिसाइल का परीक्षण किया है। उत्तर कोरिया ने रविवार को लंबी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल ‘हवासोंग 12’ का परीक्षण किया था। किम ने मिसाइल के परीक्षण के आदेश जारी करने के बाद अधिकारियों के साथ मिलकर इस परीक्षण के नतीजों का विश्लेषण किया।

रिपोर्ट के मुताबिक, “किम ने कहा कि मिसाइल की मारक दर बहुत सटीक है और पुकगुकसोंग-2 सफल रणनीतिक हथियार है। उन्होंने इस हथियार प्रणाली की तैनाती को भी मंजूरी दे दी। ‘पुकगुकसोंग-2’ मध्यम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल है जिसकी मारक क्षमता 500 किलोमीटर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App