ताज़ा खबर
 

संयुक्त राष्ट्र के नव निर्वाचित महासचिव गुटेरेस ने की भारत के योगदान की सराहना

संयुक्त राष्ट्र के नवनियुक्त महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने यहां भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर से मुलाकात के दौरान संरा के साथ भारत के संबंधों की प्रशंसा की और विश्व निकाय द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यों में भारत के योगदान की सराहना की।

Author संयुक्त राष्ट्र | December 14, 2016 12:04 pm
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने की भारत की प्रशंसा

संयुक्त राष्ट्र के नवनियुक्त महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने यहां भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर से मुलाकात के दौरान संरा के साथ भारत के संबंधों की प्रशंसा की और विश्व निकाय द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यों में भारत के योगदान की सराहना की। गुटेरेस द्वारा संरा के नौंवे महासचिव पद की शपथ लेने के तुरंत बाद जयशंकर ने उनसे बात की थी। संरा में भारत के स्थायी मिशन के प्रवक्ता ने कल बताया, ‘‘नवनियुक्त संरा महासचिव ने संरा के साथ भारत के संबंधों की प्रशंसा की और विश्व निकाय द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यों में भारत के योगदान की सराहना भी की।’ प्रवक्ता ने बताया कि जयशंकर ने गुटेरेस को शपथ ग्रहण करने की बधाई दी और उन्हें सतत विकास, शांति और सुरक्षा जैसे उन मुद्दों पर सहयोग का आश्वासन दिया जो वर्तमान संरा महासचिव के लिए प्राथमिकता रहे हैं। जयशंकर ने अवर महासचिव जेफरी फेल्टमैन और संरा के राजनीतिक मामलों के विभाग के अन्य अधिकारियों से भी मुलाकात की और साझा हितों के मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया।

सोमवार को गुटेरेस ने संरा के अगले महासचिव के तौर पर शपथ ली थी। कामकाज वह अगले साल एक जनवरी से संभालेंगे। इससे एक दिन पहले यानी इसी महीने वर्तमान महासचिव बान की मून का दस साल का कार्यकाल समाप्त हो जाएगा। संरा में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने गुटेरेस और जयशंकर की मुलाकात की तस्वीर साझा की।

आपको बता दें कि गुटेरेस ने पूर्व महासचिव बान की मून की जगह ली है जिनका कार्यकाल इस महीने के अंत में समाप्त हो रहा है। मून बीते दस वर्षों से इस निकाय की कमान संभाले हुए थे। इस पद के लिए गुटेरेस का चयन गत अक्तूबर माह में हुआ था और यह जिम्मेदारी वह एक जनवरी, 2017 से संभालेंगे।
गुटेरेस ने संयुक्त राष्ट्र से ‘‘बदलाव के लिए तैयार रहने’’ का आह्वान करते हुए संगठन के कामकाज में विकास को केंद्र में रखने का संकल्प लिया और सुनिश्चित किया कि अंतरराष्ट्रीय बिरादरी के समक्ष खड़ी चुनौतियों से प्रभावी रूप से निबटने के लिए संरा में बदलाव किया जाएगा।
शपथ लेने के बाद गुटेरेस ने कहा, ‘‘संयुक्त राष्ट्र को चुस्त, दक्ष और प्रभावी बनना होगा। उसे प्रक्रिया से ज्यादा ध्यान परिणाम पर देना होगा, नौकरशाही से ज्यादा लोगों पर ध्यान देना होगा और बड़े पैमाने पर जो चुनौतियां मुंह बाए खड़ी हैं उनसे निबटने के लिए हमें संरा में सुधार की निरंतर और गहन प्रक्रिया पर मिलकर काम करना होगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App