ताज़ा खबर
 

पाक नागरिक उमर हामिद ने स्वीकार की US में 14 करोड़ डॉलर के डिप्लोमा घोटाला में अपनी भूमिका

अमेरिका में 31 वर्षीय पाकिस्तानी नागरिक ने फर्जी स्कूल एवं कॉलेजों के डिप्लोमा देने से जुड़े 14 करोड़ डॉलर के एक घोटाले में अपनी भूमिका स्वीकार कर ली है।

Author न्यूयॉर्क | April 11, 2017 12:52 PM
अमेरिका में 31 वर्षीय पाकिस्तानी नागरिक ने फर्जी स्कूल एवं कॉलेजों के डिप्लोमा देने से जुड़े 14 करोड़ डॉलर के एक घोटाले में अपनी भूमिका स्वीकार कर ली है।

अमेरिका में 31 वर्षीय पाकिस्तानी नागरिक ने फर्जी स्कूल एवं कॉलेजों के डिप्लोमा देने से जुड़े 14 करोड़ डॉलर के एक घोटाले में अपनी भूमिका स्वीकार कर ली है। इस घोटाले को पाकिस्तान के कानून प्रवर्तन द्वारा बंद की गई एक पाकिस्तानी कंपनी के जरिए अंजाम दिया गया था। कराची के उमर हामिद ने कल अमेरिकी डिस्ट्रिक्ट जज रोनी अब्राम्स के समक्ष अंतरराष्ट्रीय ‘डिप्लोमा मिल’ योजना के संबंध में की गई धोखाधड़ी में अपनी भूमिका स्वीकार कर ली। इसमें हजारों उपभोक्ताओं से लाखों डॉलर ठगे गए थे। इस अपराध के लिए अधिकतम 20 वर्ष की सजा हो सकती है। हामिद को जुलाई में सजा सुनाई जाएगी। हामिद को पिछले साल दिसंबर में गिरफ्तार किया गया था।

हामिद एग्जैक्ट कंपनी में सहायक उपाध्यक्ष (अंतरराष्ट्रीय संबंध) के तौर पर सेवारत था और उसने अमेरिका समेत दुनिया भर के कई लोगों को ठगने के लिए उनके समक्ष कथित हाईस्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में पंजीकरण करवाने की पेशकश की। उपभोक्तओं ने हामिद और उसके सहयोगियों को यह मानकर फीस थमा दी कि इसके बदले में उनका नामांकन असली शैक्षणिक पाठ्यक्रमों में हो जाएगा और फिर उन्हें वैध डिग्रियां भी मिल जाएंगी। लेकिन फीस भरने के बाद भी उपभोक्ताआें को कोई वैध निर्देश नहीं मिले और उन्हें फर्जी और बेकार डिप्लोमा थमा दिए गए। मई 2015 में पाकिस्तानी कानून प्रवर्तन द्वारा एग्जैक्ट्स को बंद कर दिया गया था और इससे जुड़े लोगों के खिलाफ पाकिस्तान में कार्रवाई की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App