लंदनः ब्रिटिश सांसद डेविड एमेस की मौत, चर्च में बैठक के दौरान शख्स ने चाकू से किए थे ताबड़तोड़ वार

ब्रिटेन के एक सांसद डेविड एमेस पर शुक्रवार को चाकूओं से हमला किया गया है। इस मामले में हमलावर को पुलिस ने पकड़ लिया है। सांसद पर यह हमला एक मीटिंग के दौरान हुआ। हमले में सांसद की मौत हो गई है।

British MP David Amess, UK MP David Amess
ब्रिटेन के सांसद डेविड एमेस पर चाकू से हमला (फाइल फोटो- @amessd_southend)

ब्रिटेन के एक सांसद पर मीटिंग के दौरान एक शख्स ने चाकूओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। इस घटना में सांसद डेविड की मौत हो गई है, वहीं हमला करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया है।

स्काई न्यूज और बीबीसी की रिपोर्ट में बताया गया है कि ब्रिटिश सांसद डेविड एमेस को शुक्रवार को दक्षिण पूर्व इंग्लैंड में उनके स्थानीय निर्वाचन क्षेत्र में एक कार्यक्रम के दौरान “कई बार” चाकू मारा गया। स्थानीय पुलिस ने एमेस का नाम नहीं लिया, लेकिन उन्होंने घटना के बारे में पुष्टि की है। घटना के बाद तुरंत मौके पर पहुंच गई, जिसके बाद हमलावार को हिरासत में ले लिया गया था।

एसेक्स पुलिस ने एक बयान में कहा कि दोपहर 12:05 बजे के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारी ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया और एक चाकू बरामद किया है। बयान में कहा गया है, “हम घटना के संबंध में किसी और की तलाश नहीं कर रहे हैं।”

सांसद को कई बार चाकू मारा गया था- घटनास्थल पर मौजूद एक स्थानीय पार्षद जॉन लैम्ब ने रॉयटर को बताया। जॉन के अुनसार- “वह अभी भी चर्च में हैं। हमें उन्हे देखने के लिए अंदर जाने की इजाजत नहीं है। यह बहुत गंभीर लग रहा है।”

69 वर्षीय सांसद डेविड ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की कंजरवेटिव पार्टी के है। एमेस, बेलफेयर्स मेथोडिस्ट चर्च में अपनी नियमित साप्ताहिक बैठक कर रहे थे। इसकी जानकारी उन्होंने खुद अपने ट्विटर पर दी थी।

ब्रिटेन में नेताओं के खिलाफ ऐसे हमले कम ही देखे गए हैं। इससे पहले जून 2016 में लेबर पार्टी की एक सांसद जो कॉक्स को चाकू और गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 2010 में, लेबर पार्टी के सांसद स्टीफन टिम्स पर भी उनके निर्वाचन क्षेत्र में चाकू मारने की कोशिश की थी, जिसमें वो बाल-बाल बच गए थे।

बता दें कि घटना के बाद आसपास के इलाके में भारी पुलिसबल को तैनात कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में किसी और के शामिल होने से इनकार करते हुए कहा कि वो किसी और को नहीं तलाश रही है।

पढें अंतरराष्ट्रीय समाचार (International News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
कोशिकाओं, ऑक्सीजन पर रिसर्च के लिए तीन वैज्ञानिकों को चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार
अपडेट