ताज़ा खबर
 

अमेरिका ने दी उत्तर कोरिया को धमकी, खत्म हुआ सामरिक धैर्य और अब परमाणु खतरे से निपटने को लिए कोई विकल्प नहीं

उत्तर कोरिया को कड़ी चेतावनी देते हुए अमेरिका ने आज कहा कि सामरिक धैर्य खत्म चुका है तथा प्योंगयांग के परमाणु खतरे से निपटने को लिए अब और कोई विकल्प नहीं बचा है।

Author संयुक्त राष्ट्र | April 28, 2017 10:52 PM
उत्तर कोरिया को कड़ी धमकी देते हुए अमेरिका ने आज कहा कि सामरिक धैर्य खत्म चुका है और प्योंगयांग के परमाणु खतरे से निपटने को लिए अब और कोई विकल्प नहीं बचा है।

उत्तर कोरिया को कड़ी धमकी देते हुए अमेरिका ने आज कहा कि सामरिक धैर्य खत्म चुका है और प्योंगयांग के परमाणु खतरे से निपटने को लिए अब और कोई विकल्प नहीं बचा है।
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि वाशिंगटन का मकसद न तो उत्तर कोरिया में शासन व्यवस्था बदलना है और न ही वह उत्तर कोरियाई लोगों को धमकी देने या फिर एशिया प्रशांत क्षेत्र को अस्थिर करने का कोई इरादा रखता है। उन्होंने कहा, ‘‘सामरिक धैर्य की नीति का समय अब बीत गया। अब धैर्य करने का मतलब परमाणु शक्ति संपन्न उत्तर कोरिया को स्वीकार करना है। बहरहाल, उन्होंने यह चेतावनी दी है कि परमाणु खतरे से निपटने को लेकर अब कोई अन्य विकल्प नहीं बचा है।

बता दें कि उत्तर कोरिया की सैन्य गतिविधियां बढ़ने की आशंकाओं के बीच अमेरिका ने कहा है कि उसकी योजना दक्षिण कोरिया में ‘कुछ दिनों में’ मिसाइल रक्षा प्रणाली सक्रिय करने की और उत्तर कोरिया के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों का दायरा और कड़ा करने की है। अमेरिकी प्रशांत कमांड के कमांडर एडमिरल हैरी हैरिस ने बुधवार को अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों से कहा कि ‘टर्मिनल हाई एलटीट्यूड एरिया डिफेंस (थाड) का संचालन आने वाले दिनों में शुरू हो जाएगा और यह उत्तर कोरिया के बढ़ते खतरे से दक्षिण कोरिया का बचाव करने में सक्षम होगा। उत्तर कोरिया ने ज्यादा मिसाइल और परमाणु परीक्षण करने की बात कही है। एडमिरल हैरिस ने कहा कि यह प्रणाली उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन को ‘घुटनों पर गिराने के लिए नहीं बल्कि उन्हें होश में लाने के लिए लाई गयी है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी रक्षा उपकरण के दक्षिण कोरिया के सेओगजू काउंटी पहुंचने पर बुधवार को स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया।

इससे चीन भी नाराज हुआ है, जिसे डर है कि रडार की क्षमता उसकी अपनी सैन्य सुरक्षा को प्रभावित करेगा और इलाके में शक्ति के संतुलन में बदलाव आएगा। उत्तर कोरिया द्वारा दोबारा मिसाइल परीक्षण और आगे परमाणु परीक्षण की धमकी पर अमेरिकी उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने उत्तर कोरिया को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ‘परीक्षा’ नहीं लेने की चेतावनी दी थी। अमेरिकी पनडुब्बी यूएसएस मिशिगन मंगलवार ने कोरियाई प्रायद्वीप में युद्धपोतों में शामिल हो गई जिसका नेतृत्व अमेरिकी पोत यूएसएस कार्ल विन्सन कर रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App