ताज़ा खबर
 

अमेरिकी चुनावों में रूस दोबारा दखल न दे, ट्रंप प्रशासन कर रहा कोशिश

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि 2016 के आम चुनाव में कथित हस्तक्षेप के लिए वह अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन को जिम्मेदार मानते हैं।

Author वाशिंगटन | Updated: July 19, 2018 12:14 PM
ट्रंप ने चुनाव में हस्तक्षेप के लिए पुतिन व्यक्तिगत तौर पर जिम्मेदार

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन इस दिशा में काम कर रहा है कि रूस फिर कभी अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप न कर पाए जैसा कि वह पहले कर चुका है। व्हाइट हाउस ने आज यह जानकारी दी। अमेरिका खुफिया एजेंसियों का मानना है कि रूस ने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हर्त कि रूस को भी कुछ अमेरिकियों से पूछताछ की अनुमति दी जाए। रूस जिन अमेरिकी नागरिकों से पूछताछ करना चाहता है उनमें जनवरी 2012 से फरवरी 2014 तक रूस में अमेरिका के राजदूत रहे माइकल मैकफॉल और अमेरिकी मूल के निवेशक बिव ब्रोडर शामिल हैं जिन्होंने रूस पर नए प्रतिबंध लगाने की वकालत की थी।स्तक्षेप किया था। चुनाव में ट्रंप को जीत हासिल हुई थी। हालांकि रूस ने इन आरोपों से इनकार किया है।
व्हाइट हाउस का मानना है कि रूस से अब भी खतरा बना हुआ है।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने अपने नियमित संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं को बताया , ‘‘ राष्ट्रपति और उनका प्रशासन यह सुनिश्चित करने की दिशा में कड़ी मेहनत कर रहे हैं कि रूस हमारे चुनावों में हस्तक्षेप नहीं कर पाए , जैसा कि उसने पहले किया है। ’’ व्हाइट हाउस ने यह भी कहा कि चुनाव में हस्तक्षेप के मामले की अमेरिका में जारी जांच के संबंध में ट्रंप रूसी जांचकर्ताओं को अमेरिकी नागरिकों और रूस में अमेरिका के पूर्व राजदूत से पूछताछ करने की इजाजत देने के बारे में विचार करेंगे। इसके बदले में रूस ने चुनाव में हस्तक्षेप मामले की अमेरिकी जांच में सहयोग देने का प्रस्ताव दिया है। सोमवार को ट्रंप के साथ हेलंिसकी में हुए संवाददाता सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने प्रस्ताव दिया था कि विशेष अभियोजक रॉबर्ट मूलर का दल रूस के 12 खुफिया अधिकारियों से पूछताछ करने के लिए रूस आ सकती है

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि 2016 के आम चुनाव में कथित हस्तक्षेप के लिए वह अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन को जिम्मेदार मानते हैं। ट्रंप ने सोमवार को फिनलैंड के हेलसिंकी में पुतिन से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा था कि इस दौरान उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप के मुद्दे को उठाया था। ट्रंप से जब पूछा गया कि क्या वह 2016 के चुनाव के दौरान रूस के हस्तक्षेप को लेकर अमेरिकी खुफिया विभाग के आकलन से सहमत हैं तो उन्होंने सीबीएस न्यूज से कहा मैंने पहले भी कई बार कहा है और अब भी कह रहा हूं कि हां वह बात सही है। उनसे पूछा गया लेकिन आपने पुतिन की विशेष तौर पर निंदा नहीं की।

क्या आप उन्हें व्यक्तिगत तौर पर जिम्मेदार मानते हैं ? इस पर ट्रंप ने कहा, हां मैं यह मानता हूं क्योंकि देश की कमान उनके हाथों में है। जैसा कि मेरे देश में जो कुछ होता है उसके लिए मैं खुद को जिम्मेदार मानता हूं। इसलिए देश के नेता के तौर पर आपको उन्हें जिम्मेदार ठहराना होगा। वहीं, सोमवार को पुतिन के साथ संवाददाता सम्मेलन के दौरान चुनाव में रूस के हस्तक्षेप के अमेरिकी खुफिया विभाग के दावे का समर्थन नहीं करने को लेकर ट्रंप अमेरिकी सांसदों की आलोचनाओं का शिकार हुए थे।

जिसके बाद आज ट्रंप ने कहा कि पुतिन के साथ उनका संवाददाता सम्मेलन बहुत बढ़िया रहा। राजनीतिक गलियारे में इस समाचार सम्मलेन को लेकर जाहिर किए जा रहे गुस्से को उन्होंने बेबुनियाद बताया। सीनेटर जैफ फ्लेक ने ट्ंरप के प्रदर्शन को ‘‘शर्मनाक’’ बताया। वहीं रिपब्लिकन सीनेटर जॉन मैक्केन ने कहा कि हेलंिसकी में हुआ संवाददाता सम्मेलन किसी भी अमेरिकी राष्ट्रपति के ‘‘सबसे अपमानजनक प्रदर्शनों’’ में से एक था। वहीं ट्रंप ने सारा ठीकरा मीडिया पर फोड़ा है और कहा है कि वह बात का बतंगड़ बनाती है। उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि संवाददाता सम्मेलन में मेरा प्रदर्शन बढ़िया रहा। यह एक बढ़िया संवाददाता सम्मेलन था।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दो साल बाद तुर्की में आपातकाल खत्म, डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों को गंवानी पड़ी थी नौकरी
2 32 किलोमीटर पैदल चलकर पहुंचा ऑफिस, बॉस ने दिया ऐसा गिफ्ट कि दिल हो गया बाग-बाग
3 24 महीनों के बाद समाप्त हुआ आपातकाल, तख्ता पलट की कोशिशों के बाद लगाई थी इमरजेंसी
जस्‍ट नाउ
X