ताज़ा खबर
 

MDH के सांभर मसाला में मिले सलमोनेलोसिस बीमारी फैलाने वाले बैक्टीरिया! अमेरिका से वापस मंगवाए गए स्टॉक

अमेरिकी एफडीए की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, 'एफडीए की ओर से एक प्रमाणित लैब में कराए गए टेस्ट में साल्मोनेला मिलने की पुष्टि हुई है।'

Author नई दिल्ली | Published on: September 11, 2019 8:54 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

Prabha Raghavan

भारत की अग्रणी मसाला कंपनी एमडीएच के सांभर मसाले में कथित तौर पर साल्मोनेला बैक्टीरिया मिलने के बाद अमेरिका से इन मसालों की कम से कम तीन खेप वापस मंगाई गई हैं। अमेरिका की फूड एंड ड्रग रेगुलेटर बॉडी एफडीए की ओर से कराए गए कुछ टेस्ट के परिणाम सामने आने के बाद पिछले हफ्ते यह कदम उठाया गया।

अमेरिकी एफडीए की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, ‘एफडीए की ओर से एक प्रमाणित लैब में कराए गए टेस्ट में साल्मोनेला मिलने की पुष्टि हुई है। साल्मोनेला से संक्रमित प्रोडक्ट के वितरण की जानकारी मिलने के बाद एफडीए ने रिकॉल का फैसला किया।’ बयान में इस बात का जिक्र नहीं है कि प्रोडक्ट वापसी का फैसला स्वैच्छिक था।

एफडीए के मुताबिक, साल्मोनेला बैक्टीरिया की वजह से सलमोनेलोसिस नामक एक आम खान-पान जनित बीमारी होती है। दस्त, पेट में दर्द और बुखार इसके लक्षण होते हैं। अधिकतर लोग बिना इलाज ठीक हो जाते हैं। हालांकि, बहुत सारे लोगों को इतनी तेज दस्त की शिकायत हो सकती है कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़े। एजेंसी के मुताबिक, बुजुर्ग, नवजात और कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों के गंभीर तौर पर बीमार होने की आशंका रहती है।

बता दें कि मसालों की जिस खेप (कोड: 47, 48 और 107) को वापस मंगवाया गया है, उसका उत्पादन आर-प्योर एग्रो स्पेशियिलिटीज द्वारा किया गया है। मसालों को अमेरिकी सप्लायर कंपनी ‘हाउस ऑफ स्पाइसेज’ ने बेचा था। इन्हें उत्तरी कैलिफोर्निया के रिटेल स्टोर्स में बेचा जाना था। द इंडियन एक्सप्रेस को मिनिस्ट्री ऑफ कॉरपोरेट अफेयर्स की वेबसइट से मंगलवार को मिली जानकारी के मुताबिक, आर-प्योर कंपनी और एमडीएच के बोर्ड में सभी डायरेक्टर समान हैं।

फिलहाल यह साफ नहीं है कि आर-प्योर की ओर से अमेरिकी बाजार के लिए निर्मित एमडीएच के प्रोडक्ट भारत में भी वितरित किए गए थे कि नहीं। इस बारे में एमडीएच से उनकी रजिस्टर्ड ईमेल एड्रेस पर सवाल पूछे गए, लेकिन खबर के प्रकाशित होने तक उनकी ओर से जवाब नहीं मिल पाया था। बता दें कि एमडीएच के प्रोडक्ट्स में साल्मोनेला के संक्रमण की शिकायत अमेरिका में पहले भी हुई है। एफडीए की वेबसाइट के मुताबिक, फूड रेगुलेटर ने 2016 से 2018 के बीच कंपनी के मसालों के इंपोर्ट को 20 मौकों पर रोका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UNHRC में बोला भारत- झूठ की फैक्ट्री चला रहा पाकिस्तान, आंतरिक मामलों में दखल बर्दाश्त नहीं
2 चीन और पाकिस्तान ने छेड़ा कश्मीर राग तो भारत ने दिया मुंहतोड़ जवाब, कहा- POK में रोको ‘कॉरिडोर’ का काम
3 महिला का लिबास देख भड़क गया पाकिस्तानी फलवाला, देने लगा इस्लाम का ज्ञान, देखें VIDEO