153 किलो का है दुनिया का सबसे बड़ा समोसा, भारत नहीं, इस देश में हुआ ये कारनामा - The world's largest samosa made in the London Mosque - Jansatta
ताज़ा खबर
 

153 किलो का है दुनिया का सबसे बड़ा समोसा, भारत नहीं, इस देश में हुआ ये कारनामा

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के कर्मचारी प्रवीण पटेल ने बताया कि इस समोसे को बनाने में सारे नियमों का पालन किया गया।

समोसे को बनाने के दौरान मस्जिद में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के कर्मचारी भी मौजूद रहे और समोसे का टेस्ट करने के बाद कर्मचारी ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा समोसा होने का खिताब दिया। (Photo: AFP Video Screenshot)

उत्तर प्रदेश के महाराजगंज के बाद अब दुनिया का सबसे बड़ा समोसा का रिकॉर्ड मंगलवार को इंग्लैंड की राजधानी लंदन में बनाया गया। इस विशालकाय समोसा का वजन 153.1 किलोग्राम था। विशालकाय समोसे को पूर्वी लंदन की एक मस्जिद में बनाया गया। इस समोसे को एक ‘मुस्लिम एड्स यूके’ नाम के संगठन में काम करने वाले लोगों ने तैयार किया। समोसे को बनाने के दौरान मस्जिद में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के कर्मचारी भी मौजूद रहे और समोसे का टेस्ट करने के बाद कर्मचारी ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा समोसा होने का खिताब दिया। इससे पहले जून 2012 में उत्तरी इंग्लैंड के ब्रैडफोर्ड कॉलेज में 110.8 किलोग्राम का समोसा बनाया गया था। इसके पहले इतना बड़ा समोसा न होने के कारण इसे गिनीज बुक ऑफ द वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल किया गया था। लेकिन इस बार मस्जिद के लोगों ने इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया।

हालांकि, उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले के सिसवा कस्बे के युवाओं ने साल 2016 में 12 घंटे के खड़े प्रयास के बाद विश्व का सबसे बड़ा समोसा तैयार किया था। इस समोसे ने 2012 में बने सबसे बड़े समोसे का रिकार्ड तोड़ दिया था। लेकिन इसे गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल नहीं किया गया था।

समोसे को एक विशाल तार के जाल पर बनाया गया था। दुनिया के सबसे बड़े समोसा बनाने वाले 26 साल के प्रोजक्ट मैनेजर फरीद इस्लाम ने कहा, मेरा दिल बहुत तेजी से धड़क रहा था, यह बहुत तनावपूर्ण स्थिति थी, लेकिन सबकुछ सफलता पूर्वक हो जाने के बाद काफी संतुष्ट महसूस कर रहे हैं।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के कर्मचारी प्रवीण पटेल ने बताया कि इस समोसे को बनाने में सारे नियमों का पालन किया गया। एफबी से बात करते हुए कहा कि समोसा को त्रिकोणीय बनाने के लिए इसमें आटा, आलू, प्याज और मटर डालकर तला गया। उन्होंने कहा, यह देखने में समोसे की तरह लग रहा है। टीम ने ध्यानपूर्वक इसे त्रिकोणीय आकार का बनाया। समोसे को बनाने में लगभग 15 घंटे का समय लगा। इस समोसे को साल्वेशन आर्मी के माध्यम से स्थानीय बेघर लोगों को बांटा गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App