ताज़ा खबर
 

सीरिया संकट: यूनान तट से दूर शरणार्थियों से भरी नौका डूबी, बच्ची की मौत

तुर्की से यूनान जाने के प्रयास में शुक्रवार को शरणार्थियों से भरी एक नौका के डूब जाने के कारण पांच साल की एक सीरियाई बच्ची मृत पायी गयी और कई...

Author एथेंस | Published on: September 20, 2015 12:53 PM
यूनान में लोगों से लदी दो तस्कर नौकाओं के डूब जाने से शुक्रवार को कम से कम 46 लोगों की मौत हो गई। इनमें से एक तिहाई से ज्यादा बच्चे थे। (रॉयटर्स फाइल फोटो)

तुर्की से यूनान जाने के प्रयास में शरणार्थियों से भरी एक नौका के डूब जाने के कारण पांच साल की एक सीरियाई बच्ची आज मृत पायी गयी और कई अन्य शारणार्थी लापता बताए जाते हैं।

यूनानी तटरक्षकों ने 13 अन्य लोगों को बचा लिया है तथा बाकी लोगों की तलाश की जा रही है। सरकारी संवाद समिति एएनए ने यह जानकारी दी है। यह हादसा यूनानी द्वीप लेसबोस के उत्तर में हुआ जहां इस वर्ष युद्ध ग्रस्त सीरिया से बड़ी संख्या में शरणार्थी आ रहे हैं।

यूरोप में बेहतर भविष्य की तलाश में निकले इनमें से बहुत से लोग ऐजियन सागर को पार करने के प्रयास में जान से हाथ धो चुके हैं। इस महीने की शुरुआत में तीन साल के सीरियाई शरणार्थी बच्चे आयलन कुर्दी की तस्वीरों ने दुनिया को हिला कर रख दिया था। उसके परिवार को लेकर जा रही नौका यूनानी द्वीप कोस जाते हुए डूब गयी थी और उसके बाद आयलन का शव बहकर तट पर आ गया था।

इस घटना ने शरणार्थी संकट से निपटने के लिए यूरोपीय नेताओं पर अपने प्रयासों को गति देने का दबाव बढ़ा दिया। शुक्रवार को भी एक चार साल की सीरियाई बच्ची का शव बहकर पश्चिमी तुर्की के तट पर आ लगा।

शरणार्थी अब समुद्री यात्रा से बचने के लिए यूनान और बुल्गारिया के साथ लगती तुर्की की भू सीमाओं की ओर रुख कर रहे हैं। समुद्री यात्राओं के दौरान नौकाओं के डूबने से 2600 लोग अपनी जिंदगी गंवा चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X